एडवांस्ड सर्च

Hobart International: सानिया का धमाका, मां बनने के बाद जीता पहला खिताब

33 साल की सानिया का पूरे टूर्नामेंट के दौरान अपनी यूक्रेनी साथी नादिया किचेनोक के साथ शानदार प्रदर्शन जारी रहा. मां बनने के बाद सानिया का यह पहला खिताब है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 18 January 2020
Hobart International: सानिया का धमाका, मां बनने के बाद जीता पहला खिताब Sania Mirza

  • सानिया मिर्जा की होबार्ट में बड़ी कामयाबी
  • चीन की जोड़ी को दी सीधे सेटों में मात

भारत की दिग्गज टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा ने दो साल बाद कोर्ट पर वापसी करते हुए होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट (Hobart International Tennis Tournament) का महिला डबल्स खिताब जीत लिया है. 33 साल की सानिया का पूरे टूर्नामेंट के दौरान अपनी यूक्रेनी साथी नादिया किचेनोक के साथ शानदार प्रदर्शन जारी रहा. यह सानिया का 42वां डब्ल्यूटीए डबल्स खिताब है, जबकि मां बनने के बाद उनका पहला खिताब है.

शनिवार को फाइनल मुकाबले में इंडो-यूक्रेनी (सानिया-नादिया) जोड़ी ने दूसरी वरीयता प्राप्त झांग शुइ और पेंग शुइ की चीनी जोड़ी को 6-4, 6-4 से शिकस्त दी. यह मुकाबला एक घंटे 21 मिनट तक चला. सानिया-नादिया की जोड़ी ने स्लोवेनियाई-चेक जोड़ी तमारा जिदानसेक और मैरी बुजकोवा को शुरुआती संघर्ष के बाद 7-6 (3), 6-2 से मात देकर फाइनल में जगह बनाई थी.

सानिया ने दो साल बाद टेनिस कोर्ट पर वापसी करते ही खिताब पर कब्जा किया. होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट से पहले सानिया ने आखिरी बार अक्टूबर 2017 में चाइना ओपन में खेला था. टेनिस से दो साल तक दूर रहने के दौरान मां बनने के लिए औपचारिक ब्रेक लेने से पहले उन्हें चोट से जूझना पड़ा था.

भारतीय टेनिस स्टार सानिया डबल्स में पूर्व विश्व नंबर-1 हैं और उनके नाम छह ग्रैंड स्लैम खिताब (3 डबल्स + 3 मिक्स्ड डबल्स) हैं. वह 2013 में सबसे सफल भारतीय महिला टेनिस खिलाड़ी रहते हुए सिंगल्स मुकाबले से रिटायर हो गईं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay