एडवांस्ड सर्च

नरसिंह पर NADA का फैसला आज, कहीं इस कारण दूसरे टेस्ट में तो नहीं हुए फेल?

राष्ट्रीय  डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) गुरुवार को डोपिंग विवाद में फंसे पहलवान नरसिंह यादव की किस्तम का फैसला करेगा. दो बार डोप टेस्ट में फेल होने के बाद उनके रियो ओलंपिक में जाने के आसार कम नजर आ रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
मोनिका शर्मा नई दिल्ली, 28 July 2016
नरसिंह पर NADA का फैसला आज, कहीं इस कारण दूसरे टेस्ट में तो नहीं हुए फेल? नरसिंह यादव

पहलवान नरसिंह यादव दूसरे डोप टेस्ट में भी फेल हो गए हैं. राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी (नाडा) में गुरुवार को भी डोपिंग मामले की सुनवाई होनी है. शाम चार बजे इस पर फैसला भी आ सकता है, वहीं सूत्र बताते हैं कि नरसिंह के रियो जाने के आसार कम हैं.

नाडा ने मामले में साजिश किए जाने के आरोपों पर बुधवार को नरसिंह का पक्ष सुना और इस फैसले को गुरुवार तक के लिए टाल दिया. नरसिंह के दूसरे डोप टेस्ट में भी फेल होने की रिपोर्ट और नाडा में सुनवाई के बीच एक्सपर्ट्स का मत है कि प्रतिबंधि‍त स्टेरॉयड का एक बार सेवन करने पर यह कई हफ्तों तक शरीर में पाया जा सकता है.

लंबे समय तक शरीर में रह सकता है प्रतिबंधित पदार्थ
स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने बुधवार को कहा कि पहलवान नरसिंह पंचम यादव के डोप टेस्ट में पाए गए प्रतिबंधित पदार्थ मेथानडिएनोने का सेवन करने के बाद वह लंबे समय तक शरीर में रह सकता है और मूत्र नमूने में आठ हफ्तों तक इसकी मौजूदगी पाई जा सकती है. डोप टेस्ट में असफल होने के बाद नरसिंह पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया है, जिसे उनके रियो ओलंपिक में हिस्सा लेने संदेह खड़ा हो गया है. यहां स्थित बीएलके सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के निदेशक और स्वास्थ्य संयोजक आर. के सिंगल ने बताया, 'मेथानडिएनोने का एक बार सेवन करने के बाद यह लंबे समय तक शरीर में मौजूद रहता है और मूत्र के नमूनों में छह से आठ हफ्तों तक इसकी मौजूदगी का पता चल सकता है.'

खाने में मिलावट करने वाले की पहचान
नाडा ने नरसिंह के बी नूमने में भी प्रतिबंधित पदार्थ पाया था, जिसके बाद उन पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया गया. नरसिंह ने डोप टेस्ट में फेल होन से बाद कहा है कि उनके खिलाफ साजिश की गई है. खबरों के मुताबिक उनके खाने में मिलावट करने वाले शख्स की पहचान कर ली गई है.

क्या कहते हैं विशेषज्ञ
जेपी अस्पताल के वरिष्ठ सलाहकार अतुल जैन ने बताया, 'मेथानडिएनोने का असर धीरे-धीरे खत्म हो जाता है. ये 6 से 12 सप्ताह तक शरीर में रह सकता है.' मेथानडिएनोने एक  स्टेरॉयड है जो बॉडी बिल्डरों में काफी प्रचलित है. सिंगल ने बताया, 'उपचय एंड्रोजेनिक स्टेरॉयड का रासायनिक संशोधित संस्करण है और स्वाभाविक रूप से पुरुषों में पाए जाने वाले यौन हार्मोन टेस्टोस्टेरोन का घटक है.' जैन ने कहा, 'उपचय स्टेरॉयड प्रोटीन की मात्रा बढ़ाने में मदद करता है.' सिंगल के मुताबिक, मेथानडिएनोने कम समय में पेशी का विकास करने में सक्षम है.

प्रवीण राणा के बढ़े आसार
अगर गुरुवार को नाडा नरसिंह के रियो जाने पर रोक लगाता है तो उनकी जगह प्रवीण राणा जा सकते हैं. भारतीय कुश्ती संघ ने रियो ओलंपिक के लिए नरसिंह यादव की जगह प्रवीण राणा का नाम आगे किया है. राणा का नाम भारतीय ओलंपिक संघ को भेज दिया गया है, राणा वही पहलवान हैं, जिन्हें नरसिंह ने फाइनल ट्रायल में शिकस्त दी थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay