एडवांस्ड सर्च

Advertisement

जापान का 22 साल का इंतजार खत्म, अमेरिकी ओपन के सेमी में ओसाका

दूसरी तरफ, ऐसा पहली बार हुआ है जब जापानी खिलाड़ी किसी एक ग्रैंड स्लैम के महिला और पुरुष दोनों के सिंगल्स के सेमीफाइनल में एक साथ पहुंचे हैं.
जापान का 22 साल का इंतजार खत्म, अमेरिकी ओपन के सेमी में ओसाका नाओमी ओसाका
aajtak.in [Edited By: विश्व मोहन मिश्र]न्यूयॉर्क, 06 September 2018

नाओमी ओसाका 22 साल में किसी ग्रैंड स्लैम के महिला एकल सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बन गई हैं. ओसाका ने अमेरिकी ओपन के क्वार्टर फाइनल में सीधे सेटों में यूक्रेन की लेसिया सुरेंको पर 6-1, 6-1 से जीत दर्ज की.

जापान की किमिको डेट ने 1996 में जब विंबडलन सेमीफाइनल में जगह बनाई थी, तब ओसाका का जन्म भी नहीं हुआ था. लेकिन अब इस 20 साल की खिलाड़ी के पास एक कदम आगे बढ़ते हुए पहली बार ग्रैंड स्लैम फाइनल में जगह बनाने का मौका है.

अमेरिकी ओपन: सेमीफाइनल में जोकोविच, निशिकोरी से होगा सामना

बाद में पुरुष एकल में जापान के केई निशिकोरी भी तीसरी बार अमेरिकी ओपन के सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहे. यह पहली बार है, जब किसी एक ग्रैंड स्लैम के महिला और पुरुष दोनों एकल वर्गों के सेमीफाइनल में एक साथ जापानी खिलाड़ी पहुंचे हैं.

20वीं वरीय ओसाका को शनिवार को होने वाले फाइनल में जगह बनाने के लिए सेमीफाइनल में अमेरिका की 14वीं वरीय मेडिसन कीज की चुनौती से पार पाना होगा. कीज ने स्पेन की कार्ला सुआरेज नवारो को सीधे सेटों में 6-4, 6-3 से हराया.

ओसाका ने 2017 की उपविजेता कीज के खिलाफ अब तक अपने करियर के तीनों मैच गंवाए हैं. ओसाका ने मैच के बाद कहा, ‘सेमीफाइनल में जगह बनाना काफी मायने रखता है.’

ओसाका ने प्री क्वार्टर फाइनल के संदर्भ में कहा, ‘पिछली बार मैं काफी रोई थी और काफी लोगों ने मेरा मजाक बनाया था. इसलिए बस बार मैं सीधे नेट पर गई.’

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay