एडवांस्ड सर्च

मैच फिक्सिंग मामले में आरोपी संजीव चावला को दिल्ली अदालत से मिली जमानत

विशेष न्यायाधीश आशुतोष कुमार ने चावला को दो लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की दो जमानत के साथ राहत दी. अदालत ने कहा कि आरोपी पिछले 76 दिनों से हिरासत में है और मामले में जांच पहले ही पूरी हो गई है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 02 May 2020
मैच फिक्सिंग मामले में आरोपी संजीव चावला को दिल्ली अदालत से मिली जमानत संजीव चावला को कोर्ट से मिली राहत (फाइल फोटो)

  • मैच फिक्सिंग मामलों में आरोपी है चावला
  • देश नहीं छोड़ने की शर्त पर मिली जमानत

दिल्ली की एक अदालत ने मैच फिक्सिंग मामले में आरोपी संजीव चावला को जमानत दे दी है. हालांकि जमानत के साथ ही कोर्ट ने एक शर्त रखी है कि बिना अनुमति लिए वे देश से बाहर नहीं जा सकते. साल 2000 में क्रिकेटर हैंसी क्रोनिए से जुड़े मैच फिक्सिंग मामलों में से एक में प्रमुख आरोपी बुकी संजीव चावला को फरवरी महीने में ही प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया था. दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने उसके खिलाफ 2013 में चार्जशीट फाइल की थी. 2000 में मैच फिक्सिंग का मामला सामने आया था, जिसमें पुलिस ने कुल 6 आरोपी बनाए थे.

विशेष न्यायाधीश आशुतोष कुमार ने चावला को दो लाख रुपये के निजी मुचलके और इतनी ही राशि की दो जमानत के साथ राहत दी. अदालत ने कहा कि आरोपी पिछले 76 दिनों से हिरासत में है और मामले में जांच पहले ही पूरी हो गई है. बहरहाल, अदालत ने चावला को मामले में जांच अधिकारी को अपनी आवाज और हस्तलेख का नमूना देने का निर्देश दिया.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...

पुलिस के अनुसार, संजीव चावला पांच मैचों की फिक्सिंग में शामिल है. पुलिस ने अदालत को बताया था कि क्रोन्ये भी इस मामले में शामिल था. क्रोन्ये की 2002 में विमान दुर्घटना में मौत हो गई थी. ऐसा आरोप है कि चावला ने फरवरी-मार्च 2000 में दक्षिण अफ्रीकी टीम के भारत दौरे के मैचों को फिक्स करने के लिए क्रोन्ये के साथ साजिश करने में अहम भूमिका निभाई थी.

और पढ़ें- मैच फिक्सिंग के आरोपी सटोरिए संजीव चावला को लंदन से दिल्ली लाया गया

साउथ अफ्रीका के खिलाड़ी हर्शल गिब्स और निकी बोए के फिक्सिंग से जुड़े होने के पर्याप्त सबूत न मिलने पर उनका नाम चार्जशीट से हटा दिया गया था. इस संबंध में 2013 में दिल्ली पुलिस ने चार्जशीट दायर की थी. इसमें हैंसी क्रोनिए, सट्टेबाज संजीव चावला, मनमोहन खट्टर, दिल्ली के राजेश कालरा और सुनील दारा सहित टी सीरीज के मालिक के भाई कृष्ण कुमार को आरोपित बनाया गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay