एडवांस्ड सर्च

रियो ओलंपिक: ट्रैक एंड फील्ड में भारतीय एथलीट करेंगे आगाज

रियो ओलंपिक में अभी तक भारतीय एथलीटों का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक ही रहा है. शुक्रवार से ट्रैक एंड फील्ड के मुकाबले शुरू होने हैं. जहां भारतीय एथलीट अपने अभियान की शुरुआत करेंगे. ट्रैक एंड फील्ड इवेंट में भारत को पदक मिलने की संभावना बेहद कम है.

Advertisement
aajtak.in
अमित रायकवार / IANS रियो डी जेनेरियो, 12 August 2016
रियो ओलंपिक: ट्रैक एंड फील्ड में भारतीय एथलीट करेंगे आगाज विकास गौड़ा, रंजीत माहेश्वरी , श्रावणी नंदा, टिंटू लुका

रियो ओलंपिक में अभी तक भारतीय एथलीटों का प्रदर्शन बेहद निराशाजनक ही रहा है. शुक्रवार से ट्रैक एंड फील्ड के मुकाबले शुरू होने हैं. जहां भारतीय एथलीट अपने अभियान की शुरुआत करेंगे. ट्रैक एंड फील्ड इवेंट में भारत को पदक मिलने की संभावना बेहद कम है. और पेरिस ओलंपिक 1900 में नॉर्मन प्रिचार्ड को दो रजत पदक जीतने के बाद से भारत का एक भी एथलीट ट्रैक एंड फील्ड स्पर्धाओं में कोई पदक हासिल नहीं कर पाया.

विकास गौड़ा पर होगी नजरें
भारतीय ट्रैक एंड फील्ड दल इस बार इतिहास को पीछे छोड़ते हुए पदक हासिल करने की पूरी कोशिश करेगा. भारतीय ट्रैक एंड फील्ड दल में पदक की सबसे ज्यादा उम्मीदें गोला डिस्कस थ्रोअर खिलाड़ी विकास गौड़ा से होगी. गौड़ा का यह लगातार चौथा ओलंपिक है, और ऐसा करने वाले वो भारत के पहले एथलीट भी हैं. गौड़ा पिछली बार लंदन ओलंपिक में फाइनल तक पहुंचने सफल रहे थे. लेकिन इस बार के राष्ट्रमंडल चैंपियन गौड़ा बिना पदक लिए नहीं लौटना चाहेंगे. माना जा रहा है कि गौड़ा का ये आखिरी ओलंपिक होगा. जहां वह अपना व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ 66.28 मीटर का रिकॉर्ड तोड़ते हुए पदक के साथ विदाई लेना चाहेंगे.

रंजीत माहेश्वरी लगाएंगे छलांग
तिहरी कूद के खिलाड़ी रंजीत माहेश्वरी भी अच्छे फॉर्म में हैं और उनसे भी पदक की उम्मीद की जा सकती है. लंदन ओलंपिक में रंजीत क्वालिफिकेशन दौर में लगातार तीनों प्रयास में चूक गए थे और क्वालिफिकेशन दौर से ही उनका सफर खत्म हो गया था. घरेलू दर्शकों के सामने दिल्ली में हुए राष्ट्रमंडल खेलों-2010 में रंजीत ने 17.07 मीटर की दूरी तय कर राष्ट्रीय रिकॉर्ड कायम किया था, जिसे 2014 में अर्पिदर सिंह ने तोड़ा. इसके बाद रंजीत ने इसी साल बेंगलुरू में हुए इंडियन ग्रांप्री. में अपने पूर्व प्रदर्शन में सुधार करते हुए 17.30 मीटर के साथ नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड कायम किया. लंदन ओलंपिक में दुर्भाग्यपूर्ण तरीके से असफल रहने के बाद रंजीत का लक्ष्य इस बार कम से कम फाइनल तक पहुंचने का रहेगा.

श्रावणी नंदा दिखाएंगी रफ्तार
वहीं फर्राटा रेस में भारत ककी श्रावणी नंदा पर हर किसी की नजरें रहेंगी. श्रावणी ने 23.07 सेकेंड में 200 मीटर दूरी तय कर रियो के लिए क्वालिफाई किया. पी.टी.ऊषा के बाद 36 सालों में पहली बार ओलंपिक की बेहद प्रतिष्ठित 100 मीटर फर्राटा दौड़ में दुति चंद भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी. जीत से ज्यादा अहम स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश करना होगा. लंबी दौड़ में जरूर भारत को ललिता बाबर, सुधा सिंह, ओ.पी.जैशा, कविता राउत और चार गुणा 400 मीटर रिले टीम से उम्मीद रहेगी. गोला फेंक में सीमा पुनिया और चक्का फेंक में मनप्रीत कौर भारत का प्रतिनिधित्व कर रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay