एडवांस्ड सर्च

उसेन बोल्ट ने रखा 200 मीटर रेस 19 सेंकेड से भी कम समय में पूरा करने का लक्ष्य

जमैका के स्टार धावक उसेन बोल्ट का लक्ष्य 200 मीटर की दौड़ 19 सेकेंड से कम में पूरी करना है. उन्होंने यह भी कहा है कि वह कह नहीं सकते कि अगस्त में होने वाले रियो ओलम्पिक के बाद वह संन्यास लेंगे या नहीं.

Advertisement
aajtak.in
अभिजीत श्रीवास्तव नई दिल्ली, 22 April 2016
उसेन बोल्ट ने रखा 200 मीटर रेस 19 सेंकेड से भी कम समय में पूरा करने का लक्ष्य 100, 200 मीटर रेस के वर्ल्ड और ओलंपिक चैंपियन हैं उसेन बोल्ट

जमैका के स्टार धावक उसेन बोल्ट का लक्ष्य 200 मीटर की दौड़ 19 सेकेंड से कम में पूरी करना है. उन्होंने यह भी कहा है कि वह कह नहीं सकते कि अगस्त में होने वाले रियो ओलम्पिक के बाद वह संन्यास लेंगे या नहीं. 100 मीटर और 200 मीटर स्पर्धा में विश्व और ओलम्पिक चैम्पियन बोल्ट रियो में इन स्पर्धाओं में जीत हासिल कर लगातार तीन ओलम्पिक में यह दोनों स्पर्धा जीतने वाले खिलाड़ी बनने पर ध्यान दे रहे हैं. इससे पहले उन्होंने 2008 में बीजिंग में और उसके चार साल बाद लंदन में भी इन दोनों स्पर्धाओं में जीत हासिल की थी.

उसेन बोल्ट ने कहा, ‘अपने खिताब को बचाना और तीसरी बार जीत हासिल करना ही मेरा मुख्य लक्ष्य है.’

उन्होंने कहा, ‘मेरा दूसरा लक्ष्य 19 सेकेंड से कम में दौड़ पूरी करना है. मैं यह चाहता हूं और उम्मीद करता हूं कि सब कुछ अच्छा चले और मैं इसे हासिल कर पाऊं. यह मेरे लिए बड़ी बात होगी.’ बोल्ट के नाम 200 मीटर दौड़ को 19.19 सेकेंड में पूरा करने का रिकॉर्ड है. उन्हें इस साल टखने में चोट लग गई थी. उन्होंने हालांकि चोट के बाद वापसी की है और वह इस सत्र में पहली बार कैमैन द्वीप प्रतियोगिता में उतरने को तैयार हैं.

बोल्ट ने कहा, ‘मैं अब अच्छा महसूस कर रहा हूं. मेरे कोच ग्लेन मिल्स ने कहा है कि मेरी फिटनेस वैसी नहीं है, जैसी वह चाहते हैं.’

टॉप पर संन्यास लेना चाहते हैं बोल्ट
हालांकि, बोल्ट ने रियो के बाद अपने संन्यास के भी संकेत दिए लेकिन साथ ही कहा कि मिल्स ने उनसे अपने विकल्प खुले रखने की बात कही है. उन्होंने कहा कि वह अपने खेल के शीर्ष पर संन्यास लेना चाहते हैं. उन्होंने कहा, ‘कोच ने कहा है कि मुझे यह नहीं कहना चाहिए कि मैं संन्यास लेना चाहता हूं. मुझे इस साल अपने खेल पर ध्यान देना चाहिए और लंदन में अगले साल होने वाली विश्व चैम्पियनशिप के बाद सोचना चाहिए.’

बोल्ट ने कहा, ‘कोच ने मुझसे कहा कि अगर लंदन चैंम्पियनशिप के बाद मुझे लगे कि मुझे संन्यास लेना चाहिए, तो मुझे ले लेना चाहिए. लेकिन, उन्होंने कहा है कि मुझे अभी चांस लेना चाहिए. मेरे कोच मुझे कुछ और साल खेलने के लिए प्रेरित कर रहे हैं.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay