एडवांस्ड सर्च

जब विराट कोहली की बैटिंग से डरी विरोधी टीम

अपने डेब्यू के साथ ही टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर की जान बने विराट कोहली ने कई बार अपनी टीम को जीत दिलाई है. खासतौर से चेज करते वक्त तो जैसे विराट पर कोई जुनून सा छा जाता है और वो बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं. आज उनके बर्थडे के मौके पर हम विराट की ढेरों मैच विनर इनिंग्स में से आपको बता रहे हैं टॉप फाइव इनिंग्स.

Advertisement
aajtak.in
सूरज पांडेय नई दिल्ली, 05 November 2015
जब विराट कोहली की बैटिंग से डरी विरोधी टीम विराट कोहली (फाइल फोटो)

अपने डेब्यू के साथ ही टीम इंडिया के मिडिल ऑर्डर की जान बने विराट कोहली ने कई बार अपनी टीम को जीत दिलाई है. खासतौर से चेज करते वक्त तो जैसे विराट पर कोई जुनून सा छा जाता है और वो बेहतरीन प्रदर्शन करते हैं. आज उनके बर्थडे के मौके पर हम विराट की ढेरों मैच विनर इनिंग्स में से आपको बता रहे हैं टॉप फाइव इनिंग्स.

1- होबार्ट में श्रीलंका के खिलाफ 86 गेंदों पर 133 रन
ऑस्ट्रेलिया में हो रही कॉमनवेल्थ बैंक ट्राई सीरीज में होबार्ट के बेलेरिव ओवल में श्रीलंका के खिलाफ मैच था. भारत को फाइनल का सफर तय करने के लिए 40 ओवरों में 321 रन बना ही लेने थे. उस मैच में टीम का टॉप ऑर्डर ढहने के बाद नंबर चार की पोजीशन पर क्रीज पर आए विराट कोहली ने मात्र 86 गेंदों पर ताबड़तोड़ 133 रन ठोंक डाले. कोहली की इस पारी के दम पर भारत ने 13 ओवर शेष रहते ही मैच को सात विकेट से जीत लिया.

2- मीरपुर में पाक के खिलाफ 185
2012 के एशिया कप के अहम मुकाबले में कोहली ने पाकिस्तान के खिलाफ मीरपुर के शेर-ए-बांग्ला स्टेडियम में 148 गेंदों पर 185 रनों की तेज पारी खेलकर भारत को जीत दिला दी. इस मैच में पाकिस्तान ने पहले बैटिंग करते हुए 330 रन बना डाले थे. लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया के लिए ओपनर गौतम गंभीर बिना खाता खोले निपट गए. गंभीर के आउट होने के बाद नंबर तीन पर आए कोहली ने पहले सचिन और फिर रोहित शर्मा के साथ बड़ी साझेदारियां कर भारत को जीत दिलाते हुए मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड भी अपने नाम कर लिया.

3- एडिलेड टेस्ट की दोनों पारियों में शतक
इंग्लैंड के औसत दौरे के बाद ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कोहली ने जबरदस्त वापसी करते हुए टेस्ट सीरीज की शुरुआत ही एडिलेड में शतक जड़कर की. इस मैच की पहली पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 517 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में टीम इंडिया ने 444 रन बनाए जिसमें कोहली के 115 रन भी शामिल थे. दूसरी पारी में टीम इंडिया के लिए कोहली ने 141 रनों की बड़ी पारी खेली लेकिन वो मैच बचा नहीं सके और ऑस्ट्रेलिया ने ये मैच जीत लिया. भारत ने मैच तो गंवा दिया लेकिन इस मैच में टीम इंडिया की कमान संभाल रहे कोहली ने दोनों पारियों में शतक जड़ा.

4- जयपुर में ऑसीज के खिलाफ 52 गेंदों पर शतक
सात मैचों की वनडे सीरीज के लिए भारत दौरे पर आई ऑस्ट्रेलियाई टीम ने जयपुर के सवाई मानसिंह स्टेडियम में पहले बैटिंग करते हुए 359 रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया. जवाब में खेलने उतरे भारत ने अच्छा चेज करते हुए पहले विकेट के लिए 172 रन जोड़ लिए. 172 के कुल योग पर शिखर धवन 86 गेंदों पर 95 रन बनाकर आउट हो गए. शिखर के आउट होने के बाद जब विराट तीसरे नंबर पर बैटिंग के लिए आए तो उस वक्त टीम इंडिया को 143 गेंदों पर 184 रनों की जरूरत थी. कोहली ने आते ही अटैक करना शुरू किया और महज 52 गेंदों पर शतक ठोंक डाला. कोहली के अलावा रोहित शर्मा ने भी 123 गेंदों में 141 रनों की पारी खेली. टीम इंडिया ने इस मैच को 9 विकेट से जीता.

5- वेलिंगटन टेस्ट की चौथी पारी में मैच बचाने वाला नाबाद शतक
न्यूजीलैंड के दौरे पर गई टीम इंडिया पहला टेस्ट हार चुकी थी. वेलिंगटन के बेसिन रिजर्व मैदन पर हो रहे दूसरे टेस्ट की पहली पारी में भारतीय गेंदबाजों ने अच्छी बॉलिंग करते हुए कीवीज को 192 रनों पर समेट दिया. जवाब में भारतीय बल्लेबाजों ने 438 रना बनाए. हालांकि दूसरी पारी में कीवी कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम ने 302 रनों की बड़ी पारी खेलते हुए अपनी टीम को 680 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया. जवाब में भारतीय ओपनर्स सिंगल डिजिट में ही पैवेलियन लौट गए. ओपनरों के बाद चेतेश्वर पुजारा भी क्रीज पर ज्यादा देर नहीं टिक सके और मात्र 17 रन बनाकर आउट हो गए. जिसके बाद कोहली ने 105 रनों की नाबाद पारी खेलकर मैच ड्रॉ कराया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay