एडवांस्ड सर्च

सहवाग ने पूर्व कप्तानों का शुक्रिया अदा किया, लेकिन नहीं लिया धोनी का नाम

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गुरुवार को भारत के सबसे सफल सलामी बल्लेबाजों में से एक विरेंदर सहवाग को सम्मानित किया. गौरतलब है कि सहवाग ने इसी साल 20 अक्टूबर को क्रिकेट से संन्यास ले लिया था.

Advertisement
aajtak.in
सूरज पांडेय नई दिल्ली, 03 December 2015
सहवाग ने पूर्व कप्तानों का शुक्रिया अदा किया, लेकिन नहीं लिया धोनी का नाम विरेंदर सहवाग

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने गुरुवार को भारत के सबसे सफल सलामी बल्लेबाजों में से एक विरेंदर सहवाग को सम्मानित किया. गौरतलब है कि सहवाग ने इसी साल 20 अक्टूबर को क्रिकेट से संन्यास ले लिया था.

कोटला में सम्मानित हुए सहवाग
फिरोजशाह कोटला स्टेडियम में दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच शुरू हुए चौथे टेस्ट मैच के पहले दिन टॉस के बाद सहवाग अपने पूरे परिवार के साथ मैदान में पहुंचे. सहवाग के प्रति सम्मान जताने के लिए दिल्ली एवं जिला क्रिकेट बोर्ड (डीडीसीए) ने अंबेडकर स्टेडियम छोर का नाम बदलकर 'वीरू 319 छोर' रखा है. आपको बता दें कि छोर के नाम में यह बदलाव सिर्फ इसी मैच के लिए है.

वीरू ने पूर्व कप्तानों को कहा थैंक्यू
इस मौके पर सहवाग ने पूर्व भारतीय कप्तानों, सचिन तेंदुलकर, अनिल कुम्बले, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ को थैंक्यू बोला. इसके अलावा सहवाग ने बीसीसीआई, अपने पहले कोच एएन शर्मा और अपने चाहने वालों का भी शुक्रिया अदा किया. हालांकि सहवाग ने इस मौके पर टीम इंडिया के सबसे सफल कप्तान माने जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी, जिनकी कप्तानी में वो 6 साल तक खेले उनका नाम नहीं लिया. सहवाग द्वारा धोनी को इग्नोर किए जाने की वजह चाहे जो रही हो लेकिन ये बात अब चर्चा का विषय बन गई है.

विस्फोटक बल्लेबाज सहवाग ने भारत के लिए 15 साल के करियर में 104 टेस्ट खेलते हुए 8586 रन बनाए. इसके अलावा सहवाग ने 251 वनडे मैचों में 8273 रन जुटाए. टेस्ट मैचों में सहवाग के नाम 23 और वनडे मैचो में 15 शतक हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay