एडवांस्ड सर्च

बलिदान बैज पर ICC की रोक, कहा- धोनी ने किया नियम का उल्लंघन, झुक जाएगा BCCI?

आईसीसी ने बीसीसीआई से कहा कि धोनी ने नियमों का उल्लंघन किया है. वह ग्लव्स पर कोई निजी मैसेज नहीं लिख सकते हैं.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 08 June 2019
बलिदान बैज पर ICC की रोक, कहा- धोनी ने किया नियम का उल्लंघन, झुक जाएगा BCCI? बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनकर खेलते धोनी (फोटो-Reuters)

साउथ अफ्रीका के खिलाफ बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनकर खेलते महेंद्र सिंह धोनी को जिसने भी देखा, वो धोनी की वाह-वाही करने से खुद को रोक नहीं पाया, लेकिन आईसीसी को ये जरा भी रास नहीं आया. आईसीसी ने बीसीसीआई से कहा कि धोनी ने नियमों का उल्लंघन किया है. वह ग्लव्स पर कोई निजी मैसेज नहीं लिख सकते हैं. आईसीसी के सख्त रुख के बाद बीसीसीआई इस मामले में अपना रुख बदल सकता है. वह इस मामले को तूल न देकर धोनी से ग्लव्स बदलने को कह सकता है. 

अब सवाल उठता है कि क्या धोनी को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ अगले मैच में अपने इन ग्लव्स का बलिदान करना पड़ेगा? आईसीसी के रूख से ऐसा ही लगता है. आज सुबह बीसीसीआई ने आईसीसी से मांग की थी कि धोनी को बलिदान बैज वाले ग्लव्स पहनकर खेलने की इजाजत दी जाए. इस मांग पर आईसीसी ने साफ कर दिया है कि धोनी बलिदान बैज के ग्लव्स के साथ नहीं खेल सकते हैं.

dhoni-1_060819095214.jpg

आईसीसी ने बीसीसीआई से कह दिया कि धोनी दोबारा ये ग्लव्स पहनकर मैदान पर ना उतरें. इसके पीछे आईसीसी ने जी-1 नियम की दलील दी जो कहता है कि मैदान पर कोई भी खिलाड़ी अपनी ड्रेस पर ऐसा कोई चिह्न इस्तेमाल नहीं कर सकता है, जिससे कोई धार्मिक, राजनीतिक या नस्लीय संदेश जाए या फिर किसी की भावनाओं को ठेस पहुंचे.

बीसीसीआई के सीईओ विनोद राय ने कहा था कि हमने बीसीसीआई की तरफ से आईसीसी को सुचना भेज दी है की धोनी के ग्लव्स में जो चिन्ह है उसका किसी व्यवसायिक और धर्म के सांकेतिक से कोई लेना देना नहीं है. जैसा की हम सब जानते है तो उन्हें इसकी अनुमति जल्दी ही मिल सकती है. हालांकि, विनोद राय की उम्मीद से उलट आईसीसी ने अनुमति देने से इनकार कर दिया है.

बुधवार को साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए मैच के दौरान 37 साल के महेंद्र सिंह धोनी को खास प्रतीक चिह्न के साथ विकेटकीपिंग करते देखा गया था. इसके बाद उनकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो गईं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay