एडवांस्ड सर्च

वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भारत की हार से सट्टेबाजों को हुआ इतने रुपये का नुकसान

भारत को आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड ने 18 रनों से हरा दिया. भारत की इस हार से दिल्ली-एनसीआर के सट्टाबाजार को बड़ा नुकसान हुआ है.

Advertisement
aajtak.in
तरुण वर्मा मैनचेस्टर, 11 July 2019
वर्ल्ड कप सेमीफाइनल में भारत की हार से सट्टेबाजों को हुआ इतने रुपये का नुकसान India (IND) vs New Zealand (NZ), ICC World Cup 2019

भारत को आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के पहले सेमीफाइनल में बुधवार को न्यूजीलैंड ने 18 रनों से हरा दिया. भारत की इस हार से दिल्ली-एनसीआर के सट्टाबाजार को बड़ा नुकसान हुआ है. सूत्रों के अनुसार इस हार ने सट्टेबाजों को 100 करोड़ रुपये का चूना लगाया है. इस मैच से पहले सभी न्यूजीलैंड के ऊपर भारत की जीत की भविष्यवाणी कर रहे थे. भारत को जीत का दावेदार भी माना जा रहा था, लेकिन कीवी टीम ने पासा पलट दिया. भारत पर सट्टा बाजार में 4.35 रुपये का भाव था, जबकि न्यूजीलैंड पर 49 रुपये का भाव था. इसका मतलब था कि कीवी टीम हारी हुई थी.

मैच में जब भारत का स्कोर छह विकेट के नुकसान पर 200 रन था और रवींद्र जडेजा तथा महेंद्र सिंह धोनी बल्लेबाजी कर रहे थे तब भारत पर सट्टेबाज जमकर खेल रहे थे, लेकिन आखिरी दो ओवरों में जिस तरह से न्यूजीलैंड ने वापसी की, उससे सभी हिसाब बिगड़ गया. धोनी का आउट होना सट्टेबाजों के लिए सबसे बुरा साबित हुआ, क्योंकि उनका पूरा पैसा डूब गया था. जिन्होंने न्यूजीलैंड पर पैसा लगाया था, उनकी जेब भर गई.

गुरुग्राम के सदर बाजार में स्थित एक सट्टेबाज राजीव सिंह (फर्जी नाम) ने आईएएनएस को बताया, 'जब भारत की शीर्ष-3 बल्लेबाज पांच के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट गए थे, तब सट्टाबाजार बदल रहा था. हमारी उम्मीदें कल ज्यादा थीं, लेकिन आज भारत की हार के साथ यह वर्ल्ड कप की सबसे बुरी खबर साबित हुई.' उन्होंने बताया, 'ग्रुरुग्राम के अलावा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और दिल्ली में कई सट्टेबाजों ने पांच सितारा होटलों में पार्टियों का इंतजाम कर रखा था, लेकिन अंतिम समय में सभी को यह रद्द करना पड़ा.'

कोहली पर लगा चोकर का ठप्पा, भारत को नहीं दिला पाए बड़ा खिताब

न्यूजीलैंड के ऊपर सट्टा लगाने वाले दिल्ली के एक सट्टेबाज ने कहा, 'जब भारत के चार विकेट गिर गए थे तब मैं काफी खुश था. मैं तब भी काफी खुश था, जब भारतीय गेंदबाज अच्छे फॉर्म में नहीं थे- यह इसलिए क्योंकि मैंने सारा पैसा न्यूजीलैंड पर लगाया था. मैंने बड़ा जोखिम लिया था और यह लॉटरी साबित हुआ.'

गाजियाबाद की सट्टा मंडी के एक सट्टेबाज ने कहा, 'हम आज बुरी तरह से हार गए. यहां तक कि सत्र दर सत्र के सट्टे में भी हमें काफी नुकसान उठाना पड़ा, क्योंकि हमने धोनी और जडेजा पर भी पैसा लगाया था.' दिल्ली का सट्टाबाजार मंगलवार को काफी ऊंचा गया था. पुलिस के अनुमान के मुताबिक, दिल्ली एनसीआर में सट्टे का व्यापार 150 करोड़ रुपये से ऊपर गया था.

सट्टा रनों और विकेट से मिली जीत के अंतर पर लगा था. साथ ही इस बात पर भी लगा था कि क्या भारत और न्यूजीलैंड की टीमें मिलकर 400 से ज्यादा रन बना पाती हैं या नहीं. इस बात पर भी पैसा लगा था कि कौन-सा गेंदबाज तीन विकेट से ज्यादा लेगा, ऐसा कौन करेगा, स्पिनर या तेज गेंदबाज. इस बात पर भी सट्टा लगा था कि यह कौन होगा-जसप्रीत बुमराह, युजवेंद्र चहल या न्यूजीलैंड से ट्रेंट बोल्ट और लॉकी फर्ग्यूसन.

एक सूत्र की मानें तो, खिलाड़ियों पर आधार कीमत भी थी. उदाहरण के तौर पर बुमराह पर 20 रुपये, जबकि बोल्ट पर सात रुपये. भारत के कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा के अलावा न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन और मार्टिन गप्टिल पर भी पैसा लगा था कि इनमें से कौन अर्धशतक जमाएगा और कौन शतक.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay