एडवांस्ड सर्च

टीम इंडिया के कौन से खिलाड़ी वर्ल्ड कप में अहम साबित होंगे, क्या कहते हैं आंकड़े?

2019 में इंग्लैंड में खेले जा रहे मौजूदा वर्ल्ड कप में भी भारत को खिताब का तगड़ा दावेदार माना जा रहा है. 15 सदस्यीय टीम इंडिया में अनुभव और युवा प्रतिभा का बेहतर समावेश माना जा रहा है.

Advertisement
aajtak.in
अजीत तिवारी नई दिल्ली, 05 June 2019
टीम इंडिया के कौन से खिलाड़ी वर्ल्ड कप में अहम साबित होंगे, क्या कहते हैं आंकड़े? टीम इंडिया (AP)

विराट कोहली के नेतृत्व में टीम इंडिया ने बुधवार को वर्ल्ड कप में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ़ मैच के साथ अपनी मुहिम का आगाज़ कर दिया. टीम इंडिया के फॉर्म को देखते हुए हर किसी की जुबान पर है कि क्या कोहली अपनी कप्तानी में वैसा ही इतिहास दोहरा पाएंगे जो कि कपिल देव ने 1983 और महेंद्र सिंह धोनी ने 2011 में कर दिखाया था. 1983 में भारत ने फाइनल में वेस्ट इंडीज़ और 2011 में श्रीलंका को मात देकर कप पर कब्ज़ा जमाया था.

2019 में इंग्लैंड में खेले जा रहे मौजूदा वर्ल्ड कप में भी भारत को खिताब का तगड़ा दावेदार माना जा रहा है. 15 सदस्यीय टीम इंडिया में अनुभव और युवा प्रतिभा का बेहतर समावेश माना जा रहा है. इंडिया टुडे ग्रुप के डेटा इंटेलीजेंस यूनिट (DIU) ने भारत के खिलाड़ियों के पहले के प्रदर्शन को खंगालने के बाद पहचानने की कोशिश की- इस वर्ल्ड कप में कौन कौन से खिलाड़ी अहम साबित होंगे.   

DIU ने इंडिया के बैटिंग लाइन अप का दो पैमानों पर विश्लेषण किया.

> वो कितनी तेज़ी से रन स्कोर (स्ट्राइक रेट) करते हैं?

> औसतन वो कितना स्कोर बनाते हैं?

भारत की बैटिंग की धुरी कप्तान कोहली के इर्दगिर्द घूमती है, मौजूदा टीम में कोहली के नाम सबसे ज्यादा रन दर्ज हैं. कोहली अभी तक वनडे क्रिकेट में 41 शतक जड़ चुके हैं. ना सिर्फ वो लंबी पारियां खेलते हैं बल्कि 93 की स्ट्राइक रेट के साथ टीम इंडिया के स्कोर की गति भी बढ़ाते रहे हैं.

कोहली के अलावा दो और बैट्समैन भी टीम इंडिया के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं. टॉप ऑर्डर में रोहित शर्मा और लोअर मिडल ऑर्डर में महेंद्र सिंह धोनी. रोहित और धोनी दोनों ही स्कोर करने के साथ एक छोर संभालने की भूमिका बाखूबी निभाते रहे हैं. रोहित पारी की शुरुआत में ज़रूर सतर्क रहते हैं लेकिन जब उनकी निगाहें जम जाती हैं तो लंबी पारी खेलते हैं.

हैरत की बात नहीं कि रोहित के नाम वन डे क्रिकेट में सबसे ज्यादा दोहरे शतक दर्ज हैं. यहीं नहीं रोहित के नाम वनडे क्रिकेट में 264 रन की सबसे बड़ी पारी खेलने का भी रिकॉर्ड है.

जहां तक भारत के पूर्व कप्तान धोनी का सवाल है तो उन्हें फिनिशर के तौर पर अब तक के सबसे असरदार खिलाड़ियों में से एक माना जाता है. मौजूदा टीम में धोनी सबसे ज्यादा अनुभवी हैं. धोनी को जैसी स्थिति हो उसी के अनुरूप अपने खेल को ढालने के लिए जाना जाता है. धोनी ने अपने करियर में 341 वनडे क्रिकेट मैचों में 10 शतक और 71 अर्द्धशतक जड़े हैं.  

युवा प्रतिभाओं की बात की जाए तो टीम इंडिया के पास हार्दिक पांड्या जैसा विस्फोटक आलराउंडर मौजूद है, हिटर के तौर पर पहचान रखने वाले हार्दिक का स्ट्राइक रेट 117 का है. हार्दिक अपने बल्ले से कई बार टीम इंडिया के लिए तेज स्कोर कर अपना लोहा मनवा चुके हैं.

भारत की बैटिंग लाइन-अप का अब तक का प्रदर्शन

टीम इंडिया के बोलिंग डिपार्टमेंट की बात की जाए तो इस बार काफ़ी धारदार नजर आता है. पेस बोलिंग में जसप्रीत बुमराह पर सब की निगाहें रहेंगी तो उनका साथ देने के लिए भुवनेश्वर कुमार और मोहम्मद शमी जैसे घातक बोलर भी मौजूद हैं. फिरकी का ज़िम्मा यजुवेंद्र चहल और कुलदीप यादव के कंधों पर है. इनके अलावा आलराउंडर रविंद्र जडेजा भी फिरकी में अपना कमाल दिखाते रहे हैं. पेस बोलर्स का साथ देने के लिए इंग्लिश कंडीशन में हार्दिक पांड्या की मध्यम तेज़ गेंदबाज़ी भी कारगर साबित हो सकती है.

अगर बोलर्स के पूर्व प्रदर्शन का विश्लेषण किया जाए तो भारत के लिए इस बार बुमराह के अलावा चहल और यादव भी अहम साबित हो सकते हैं.

स्लॉग ओवर्स में बुमराह अपनी मारक यॉर्कर्स के साथ सबसे श्रेष्ठ गेंदबाज के तौर पर उभरे हैं. बुमराह 49 वनडे मैचों में 85 विकेट ले चुके हैं. बुमराह की एक और खासियत बोलिंग में कंजूसी से रन देना है. उनका बोलिंग औसत प्रति विकेट 22 रन है. बुमराह का करियर इकोनॉमी रेट 4.5 रन प्रति ओवर है.

वनडे क्रिकेट में चाइनामैन के लिए जाने जाने वाले चहल और लेग स्पिनर यादव का औसत भी 25 रन प्रति विकेट के साथ काफी अच्छा है. इनका इकोनॉमी रेट भी किफायती है. ये देखना दिलचस्प होगा कि वे पेस बोलिंग के लिए उपयुक्त इंग्लिश कंडीशन में कैसे धारदार बोलिंग करते हैं.

भारत के तीन पेस बोलर्स में मोहम्मद शमी का बोलिंग एवरेज 26 रन प्रति विकेट का है. उनका इकोनॉमी रेट 5.5 प्रति ओवर है. अगर शमी अपने इकोनॉमी रेट पर और नियंत्रण रखते हैं तो बुमराह के बढ़िया जोड़ीदार साबित हो सकते हैं.

भारत के बोलर्स का अब तक का प्रदर्शन   

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay