एडवांस्ड सर्च

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का दावा- टेंपरिंग विवाद के बाद सुधर गए कंगारू क्रिकेटर

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को एक समय उनके बिगड़ैल व्यवहार के लिए जाना जाता था लेकिन पिछले साल गेंद से छेड़छाड़ मामले के बाद अपनी खेल संस्कृति को साफ सुथरी बनाने की मुहिम से उनके व्यवहार में आमूलचूल परिवर्तन आया.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: तरुण वर्मा]सिडनी, 29 May 2019
क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया का दावा- टेंपरिंग विवाद के बाद सुधर गए कंगारू क्रिकेटर Steve Smith and David Warner

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को एक समय उनके बिगड़ैल व्यवहार के लिए जाना जाता था लेकिन पिछले साल गेंद से छेड़छाड़ मामले के बाद अपनी खेल संस्कृति को साफ सुथरी बनाने की मुहिम से उनके व्यवहार में आमूलचूल परिवर्तन आया. क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के चेयरमैन अर्ल एडिंग्स ने कहा कि ऑस्ट्रेलियाई पुरूष टीम ने 2018-19 सत्र में एक बार भी गलत आचरण नहीं किया.

यह पिछले सात वर्षों में पहला अवसर है जबकि टीम को ‘क्लीन शीट’ मिली है. यही नहीं इस बीच सभी तरह के स्तरों पर आचार संहिता उल्लंघन के मामलों में 74 प्रतिशत की कमी आई है. एडिंग्स ने कहा, ‘ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट में हर कोई इस बात से वाकिफ है कि केवल जीत ही मायने नहीं रखती बल्कि यह भी महत्वपूर्ण है कि वे खेल को कैसे खेलते हैं और खिलाड़ियों ने वास्तव में यह भावना अपने अंदर पैदा की है.’

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान स्टीवन स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ केपटाउन टेस्ट में गेंद से छेड़छाड़ मामले में लिप्त रहने के लिए एक साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था जबकि सलामी बल्लेबाज कैमरन बैनक्रॉफ्ट पर नौ महीने का प्रतिबंध लगा था.

VIDEO: लपकने गए थे कैच- बना दिया छक्का, अय्यर ने किया ये अजब कारनामा

आपको बता दें कि मार्च 2018 में जब ऑस्ट्रेलियाई टीम साउथ अफ्रीका दौरे पर गई थी, तो केपटाउन टेस्ट में ऑस्ट्रेलियाई ओपनर कैमरुन बेनक्रॉफ्ट बॉल टेंपरिंग (Ball Tampering) करते हुए पकड़े गए. बेनक्रॉफ्ट को मैच के दौरान अपने ट्राउजर से पीले रंग की चीज निकालते देखा गया. टीवी रीप्ले में देखा गया कि बेनक्रॉफ्ट को गेंद के आकार को बिगाड़ने के लिए जेब से टेप जैसे ऑब्जेक्ट का इस्तेमाल करते देखा गया, जिसे उन्होंने बाद में अपनी ट्राउजर में छिपाने की कोशिश की.

टेप को सैंडपेपर में बदलकर इसका इस्तेमाल बेनक्रॉफ्ट ने गेंद को एक तरफ से खुरदरा करने के लिए किया था, ताकि गेंदबाजों को स्विंग मिले. इस घटना के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीव स्मिथ ने बॉल टेंपरिंग की बात मानी. बॉल टेंपरिंग की घटना के कुछ ही घंटे बाद ऑस्ट्रेलियाई सरकार ने सीए से स्टीव स्मिथ को कप्तानी से हटाने के लिए कहा था. ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री मैल्कम टर्नबुल ने भी इस घटना को 'चौंकाने वाला और निराशाजनक कहा था.

बाद में स्टीव स्मिथ को ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट टीम की कप्तानी छोड़नी पड़ी थी. उपकप्तान डेविड वॉर्नर को भी उनके पद से हाथ धोना पड़ा. स्टीव स्मिथ और डेविड वॉर्नर पर एक साल का बैन लगाया गया. इसके अलावा कैमरन बेनक्रॉफ्ट पर 9 महीने का प्रतिबंध लगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay