एडवांस्ड सर्च

IND vs SA: पहला टी-20 आज, जर्सी पर ये नया नाम लेकर खेलेगी टीम इंडिया

भारतीय क्रिकेट टीम नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर आज पहली बार मैदान पर उतरेगी. वेस्टइंडीज दौरे तक भारतीय टीम ओप्पो के साथ खेल रही थी.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 15 September 2019
IND vs SA: पहला टी-20 आज, जर्सी पर ये नया नाम लेकर खेलेगी टीम इंडिया Team India new sponsor

  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ आज पहला टी-20 खेलेगी टीम इंडिया
  • नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर उतरेगी टीम

साउथ अफ्रीका का भारत दौरा आज से शुरू हो रहा है. दौरे का आगाज टी-20 सीरीज से होगा, जिसका पहला मैच आज रात 7 बजे से धर्मशाला में खेला जाएगा. भारतीय टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में 3-0 की जीत हासिल कर वनडे वर्ल्ड कप की निराशा को कुछ हद तक दूर किया. टीम की असली परीक्षा अब क्विंटन डि कॉक और कैगिसो रबाडा के खिलाफ इस सीरीज के साथ शुरू होगी.

भारतीय क्रिकेट टीम नए प्रायोजक बाइजू का नाम अपनी जर्सी पर लेकर आज पहली बार मैदान पर उतरेगी. वेस्टइंडीज दौरे तक भारतीय टीम ओप्पो के साथ खेल रही थी. भारतीय टीम का सामना यहां के हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ मैदान पर दक्षिण अफ्रीका के साथ पहले टी-20 मुकाबले में होगा. दोनों टीमों के बीच तीन टी-20 मैच खेले जाने हैं.

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 25 जुलाई को शैक्षणिक तकनीक एवं ऑनलाइन शिक्षा प्रदान करने वाली कंपनी बाइजू को भारतीय टीम का प्रायोजक बनाए जाने की आधिकारिक पुष्टि की थी. इस बात का ऐलान उसी समय हो गया था कि बेंगलुरु स्थित यह कंपनी अब भारतीय टीम की जर्सी पर स्मार्टफोन बनाने वाली कंपनी ओप्पो का स्थान लेगी.

भारत-अफ्रीका के बीच पहला टी-20 आज, इस प्लेइंग XI के साथ उतरेगा भारत!

बाइजू इस साल पांच सितंबर से 31 मार्च 2022 तक भारतीय टीम की आधिकारिक प्रायोजक रहेगी. ओप्पो ने मार्च 2017 में 1079 करोड़ रुपये में पांच साल के लिए (मार्च 2022 तक) भारतीय टीम के प्रायोजक का अधिकार हासिल किया था. ओप्पो ने हालांकि इस करार को बीच में ही खत्म कर दिया और इस बीच बीसीसीआई ने 2022 तक के लिए बाइजूज को ऑनबोर्ड किया.

बीते 30 साल के लिमिटेड ओवर क्रिकेट में भारत को कई मुख्य प्रायोजक मिले, जिनके नाम अपनी जर्सी के आगे के हिस्से पर लेकर यह टीम मैदान में उतरी, अभ्यास सत्र में उतरी और यहां तक की प्रेस कॉन्फ्रेंसेज में हिस्सा लिया. इस दौरान भारतीय टीम के साथ विल्स (जो कि लगभग एक दशक तक मुख्य प्रायोजक रहा), सहारा (यह भी करीब एक दशक तक मुख्य प्रायोजक रहा), स्टार और ओप्पो मुख्य प्रायोजक के तौर पर जुड़े रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay