एडवांस्ड सर्च

इंजमाम के खिलाफ कप्तानी कर मेरे बाल उड़ेः सौरव गांगुली

भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट में दबाव किस कदर हावी होता है इस पर आज तक के कार्यक्रम सलाम क्रिकेट के दौरान सौरव गांगुली और इंजमाम उल हक ने बहुत कुछ बताया. सेशन के दौरान इन दोनों कप्तानों ने क्रिकेट के मैदान से अलग भी बहुत सी दिलचस्प बातें कही.

Advertisement
aajtak.in
अभिजीत श्रीवास्तव नई दिल्ली, 07 March 2016
इंजमाम के खिलाफ कप्तानी कर मेरे बाल उड़ेः सौरव गांगुली सौरव गांगुली

भारत पाकिस्तान के बीच क्रिकेट में दबाव किस कदर हावी होता है इस पर आज तक के कार्यक्रम सलाम क्रिकेट के दौरान सौरव गांगुली और इंजमाम उल हक ने बहुत कुछ बताया. सेशन के दौरान इन दोनों कप्तानों ने क्रिकेट के मैदान से अलग भी बहुत सी दिलचस्प बातें कही.

सौरव हैं इंजमाम के बड़े फैन
कार्यक्रम के शुरू में ही सौरव गांगुली ने कहा कि वो इंजमाम उल हक के बहुत बड़े फैन हैं. उनकी कप्तानी कार्यकाल के दौरान इंजमाम ही पाकिस्तान के कप्तान रहे. सौरव ने बताया, ‘मैं इंजमाम की बल्लेबाजी का मुरीद होने के साथ ही उन्हें बतौर इंसान भी बहुत पसंद करता हूं. हम दोनों के बीच दुश्मनी नहीं थी. उस दौर में पाकिस्तान की टीम में एक से बढ़कर एक धाकड़ बल्लेबाज थे. खासकर इंजमाम तो आउट ही नहीं होते थे. कहा जा रहा था कि 2004-05 में इंजमाम आउट ऑफ फॉर्म थे. लेकिन एक मैच में आउट हो जाते तो अगले में ही शतक और दोहरे शतक लगा देते.’

‘मेरे बाल उड़ने लगे थे’
उस दौर में आज की ही तरह कई वर्षों बाद इन दोनों मुल्कों के बीच क्रिकेट शुरू हुई थी और गांगुली टीम का नेतृत्व कर रहे थे. तब उन्होंने कहा था कि अगर लंबे समय तक इन दोनों मुल्कों के बीच खेली जाती रही और वो कप्तानी करते रहे तो उनके बाल उड़ जाएंगे. सौरव ने कहा, ‘भारत पाकिस्तान के बीच मैच में दबाव की वजह से मेरे बाल उड़ने के साथ ही पतले भी होने लगे थे. धोनी को देख लो, शुरू में आए थे तो बड़े बड़े बाल लेकिन अब वैसे नहीं हैं.’

इंजमाम ने कहा, ‘भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट की सूरते हाल सब को पता है. भारत-पाकिस्तान के बीच मैच में लोगों को तो बहुत मजा आता है लेकिन मैच के दौरान टेंशन सिर्फ प्लेयर्स ही जानते हैं’

इस दौरान इंजमाम ने सौरव की तारीफ में कहा, ‘सौरव और मेरा विज्ञापन बना था, एलजी का. मैं होटल में ठहरा था लेकिन खाना सौरव की तरफ से आता था. मैं जितने दिन भी कोलकाता में रहा खाना सौरव की तरफ से ही आया. ऐसा मेहमान नवाज और जबरदस्त इंसान है सौरव.

दादा ने बल्ला इंजमाम से मंगवाया
2005 में पाकिस्तान की टीम भारत के दौरे पर आ रही थी तो सौरव गांगुली ने इंजमाम उल हक से बल्ला मंगवाया था. सौरव ने बताया, ‘सियालकोट में और मेरठ में बहुत ही बेहतरीन बल्ला बनता है. जब भी मैं इंजमाम को टीवी पर खेलते देखता था तो उनके बैट से बॉल टच होकर बाउंड्री के पार चली जाती और जब लिफ्ट मारते तो सीधा स्टैंड में. मैंने सोचा कि ये प्लेयर तो अच्छा है ही लेकिन इसका बैट भी अच्छा होगा. तब मैंने उनसे कहा कि एक-दो बैट मुझे भी दे दीजिए जिससे कुछ छक्के मैं भी मार लूं.’

‘रावलपिंडी एक्सप्रेस की चेन खींच देंगे’
2004 में जब टीम इंडिया पाकिस्तान के दौरे पर गई तो लाहौर एयरपोर्ट पर उतरते ही स्थानीय मीडिया ने तब टीम के कप्तान सौरव गांगुली से पूछा कि रावलपिंडी एक्सप्रेस का क्या करोगे इंडिया तो तेज गेंदबाजों से डरता है. इस पर गांगुली ने कहा, ‘चेन खींच देंगे.’ इतना कह कर वो आगे निकल गए. इसके बाद उस सीरीज में भारतीय खिलाड़ियों ने जो क्रिकेट खेली वो आज इतिहास है.

इंजमाम ने कहा, ‘भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट ऐशेज से भी बेहतर है. भारत की बल्लेबाजी हमेशा से मजबूत रही है. मुझे नहीं लगता इनके टॉप ऑर्डर बल्लेबाजों को कभी भी शोएब अख्तर जैसे गेंदबाजों को खेलने में कोई परेशानी हुई होगी.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay