एडवांस्ड सर्च

जानिए, वर्ल्ड कप में सचिन के 16 साल पुराने किस रिकॉर्ड के टूटने के हैं आसार?

जानिए, सचिन तेंदुलकर के 16 बरस पुराने किस रिकॉर्ड के इस वर्ल्ड कप में टूटने के हैं आसार?

Advertisement
aajtak.in
खुशदीप सहगल नई दिल्ली, 22 June 2019
जानिए, वर्ल्ड कप में सचिन के 16 साल पुराने किस रिकॉर्ड के टूटने के हैं आसार? Sachin Tendulkar (फाइल फोटो)

इंग्लैंड में खेले जा रहे मौजूदा वर्ल्ड कप में महज दो दिन के अंतराल में दो बड़े रिकॉर्ड टूट चुके हैं. 20 जून को ऑस्ट्रेलिया और बांग्लादेश के बीच हुए मुकाबले में दोनों टीमों ने कुल 714 रन बनाए. ये आईसीसी वर्ल्ड कप के किसी मैच में सबसे ज्यादा रन का रिकॉर्ड है. ऑस्ट्रेलिया ने इस मैच में पहले खेलते हुए 5 विकेट पर 381 रन का गगनचुंबी स्कोर खड़ा किया. बांग्लादेश ने फाइटिंग स्प्रिट दिखाते हुए ऑस्ट्रेलिया के स्कोर का पीछा करने की कोशिश की, लेकिन वो 8 विकेट पर 333 रन के स्कोर तक ही पहुंच पाया और मैच हार गया.

तीन दिन पहले इंग्लैंड और अफगानिस्तान के बीच हुए मुकाबले में किसी बॉलर की ओर से सबसे ज्यादा रन लुटाने का रिकॉर्ड भी बना. आईसीसी वनडे रैंकिंग में दुनिया के नंबर तीन बॉलर और अफगानिस्तान के स्पिनर राशिद खान ने 9 ओवर फेंके और बिना कोई विकेट लिए 110 रन लुटा डाले. ये किसी भी वर्ल्ड कप मैच में किसी बॉलर का सबसे खर्चीला स्पेल है. जहां तक सभी वनडे इंटरनेशनल मुकाबलों की बात है तो राशिद का ये स्पेल दूसरा सबसे खर्चीला है.

मौजूदा वर्ल्ड कप के इन दोनों रिकॉर्ड्स से साबित होता है कि बॉलर्स की तुलना में बैट्समैन को यहां की पिचें कहीं ज्यादा रास आ रही हैं. अगर यही ट्रेंड आगे भी जारी रहता है तो बहुत संभावना है कि किसी एक वर्ल्ड कप में सबसे ज्यादा रन बनाने का सचिन तेंदुलकर का 16 साल पुराना रिकॉर्ड भी धराशायी हो सकता है. 2003 वर्ल्ड कप में तेंदुलकर ने 673 रन बनाए थे. मौजूदा वर्ल्ड कप में अब तक जो दो टॉप स्कोरर हैं वो 400 से ज्यादा रन कूट चुके हैं और अभी कई मैच खेले जाने बाकी हैं.

ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वॉर्नर रन बनाने के मामले में फेहरिस्त में अब तक सबसे अव्वल हैं. वॉर्नर अब तक 6 मैच में 440 रन बना चुके हैं. वॉर्नर के बाद दूसरे नंबर पर बांग्लादेश के शाकिब अल हसन हैं. शाकिब अब तक 6 मैच में 425 रन बना चुके हैं. बता दें कि बांग्लादेश का एक मैच वर्षा की वजह से धुल भी गया था, इसलिए शाकिब को अब तक 5 पारी में ही बैटिंग का मौका मिला.  

वॉर्नर और शाकिब को अब भी लीग स्टेज के तीन-तीन मैच खेलना बाकी है. वॉर्नर के ओपनिंग जोड़ीदार और ऑस्ट्रेलिया के कप्तान एरॉन फिंच अब तक 396 रन बना चुके हैं. इस वर्ल्ड कप के अब तक के टॉप 5 बैट्समैन में इंग्लैंड के जो रूट और भारत के उपकप्तान रोहित शर्मा भी शामिल हैं.

इन 5 बैट्समैन में कौन तोड़ सकता है सचिन का रिकॉर्ड?

इंडिया टुडे ग्रुप के डेटा इंटेलीजेंस यूनिट ने अब तक टूर्नामेंट के टॉप 5 बैट्समैन के रन स्कोर करने के पैटर्न का विश्लेषण किया. ये जानने की कोशिश रही कि अगर वो इसी लय (औसत रन/मैच) से रन बनाते रहे तो सारे लीग मैच खत्म होने के बाद वो कितने कितने रन बना पाएंगे और इन बैट्समैन में कौन तेंदुलकर का रिकॉर्ड तोड़ सकता है.  

DIU की गणना के मुताबिक, रोहित शर्मा और शाकिब अल हसन लीग स्टेज के बाद 673 रन का आंकड़ा पार कर सकते हैं बशर्ते कि उन्होंने बाकी लीग मैचों में अपने स्कोरिंग औसत को बरकरार रखा. भारत ने अब तक इस वर्ल्ड कप में 4 मैच खेले हैं जिनमें से 1 वर्षा की वजह से धुल गया. इस तरह रोहित को अब तक तीन मैचों में ही बैटिंग का मौका मिला.  

रोहित अब तक 106 रन प्रति मैच औसत के हिसाब से 319 रन बना चुके हैं. अगर यही औसत वो आगे भी जारी रखते हैं तो लीग स्टेज के अंत तक वे 850 रन से ज्यादा रन बना सकते हैं. भारत को मौजूदा विश्व कप में अभी लीग स्टेज के 5 और मैच खेलने हैं. इसी तरह, शाकिब ने अब तक 5 मैचों में 4 पारियां खेलकर 425 रन बना चुके हैं. बांग्लादेश को अभी तीन लीग मैच और खेलने हैं. अगर शाकिब मौजूदा औसत से ही खेलते रहे तो 673 रन का आंकड़ा आसानी से पार कर सकते हैं.   

ऑस्ट्रेलियाई ओपनर वॉर्नर अपने मौजूदा स्कोरिंग औसत से 673 रन का आंकड़ा महज 3 रन से चूक सकते हैं. वहीं फिंच और रूट को तेंदुलकर के रिकॉर्ड को पार करने के लिए अपने स्कोरिंग औसत को बढ़ाना होगा. नहीं तो वो ‘673’ से कई रन से पीछे छूट सकते हैं. इसके अलावा इन खिलाड़ियों की टीम अगर सेमीफाइनल और फाइनल की स्टेज तक पहुंचती हैं तो इन्हें तेंदुलकर का 16 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने में और आसानी रहेगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay