एडवांस्ड सर्च

गुजरात में चुनाव प्रचार नहीं करेंगे नीतीश कुमार

गुजरात में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रचार के संबंधों में अटकलों पर विराम लगाते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि अपनी पूर्व की व्यस्तताओं के मद्देनजर वह चुनाव प्रचार करने गुजरात नहीं जा पायेंगे.

Advertisement
aajtak.in
आजतक ब्‍यूरो/भाषापटना, 26 October 2012
गुजरात में चुनाव प्रचार नहीं करेंगे नीतीश कुमार नीतीश कुमार

गुजरात में विधानसभा चुनाव के दौरान प्रचार के संबंधों में अटकलों पर विराम लगाते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को कहा कि अपनी पूर्व की व्यस्तताओं के मद्देनजर वह चुनाव प्रचार करने गुजरात नहीं जा पायेंगे.

मंत्रिमंडल की बैठक के बाद नीतीश ने संवाददाताओं से कहा, ‘पाकिस्तान की यात्रा, बिहार विधानसभा सत्र, अधिकार रैली और राजग सरकार के रिपोर्ट कार्ड जारी करने आदि पूर्व निर्धारित व्यस्त कार्यक्रमों के कारण मैं गुजरात विधानसभा चुनावों में प्रचार करने नहीं जा पाउंगा.’

उन्होंने कहा, ‘मैं 2007 विधानसभा चुनाव के दौरान जदयू के लिए प्रचार करने गुजरात गया था. व्यस्तता के कारण मैं गुजरात जाने की स्थिति में नहीं हूं. वहां हमारी पार्टी का आधार है.’

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष नितिन गडकरी पर लगे भ्रष्टाचार के आरोपों के संबंध में नीतीश ने कहा, ‘यह बीजेपी का अंदरूनी मामला है. इस संबंध में जरूरत होगी तो बीजेपी निर्णय लेगी. स्वयं गडकरी जी ने जांच की बात कही है और जांच होने से सच सामने आ जायेगा.’

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दामाद राबर्ट वड्रा पर लगे भ्रष्टाचार के आरोप को कांग्रेस द्वारा रफा दफा करने के संबंध में एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने कहा, ‘सब पर देश का कानून समान रूप से लागू होना चाहिए. ये राष्ट्रीय स्तर के मामले हैं.’

अपनी आगामी पाकिस्तान यात्रा (नौ से 16 नवंबर) के संबंध में पूछे जाने पर नीतीश ने कहा, ‘यह एक सदभावना यात्रा है. सिंध प्रांत की सरकार के निमंत्रण पर वहां जा रहा हूं. इस संबंध में पाकिस्तान के उच्चायुक्त सलमान बशीर यहां आये थे. उनके साथ काफी अच्छी बात हुई है.’

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जाने पर उन्हें वहां विभिन्न राजनीतिक दलों के साथ विचार विमर्श करने का अवसर मिलेगा. वह तक्षशिला, मोहनजोदड़ो भी जायेंगे. राममंदिर के निर्माण के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मेरा और मेरी पार्टी का मानना है कि अयोध्या में राम मंदिर संबंधी विवाद का समाधान आपसी बातचीत या अदालत के फैसले से होना चाहिए.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay