एडवांस्ड सर्च

वेस्टइंडीज दौरे के लिए 'छुट्टी' से अचानक क्यों लौटे कोहली, क्या ये थी वजह?

सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर टीम इंडिया का वर्ल्ड कप सफर खत्म होते ही विराट की उम्मीदों पर पानी फिर गया. कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की जोड़ी सवालों के घेरे में आ गई.

Advertisement
aajtak.inनई दिल्ली, 22 July 2019
वेस्टइंडीज दौरे के लिए 'छुट्टी' से अचानक क्यों लौटे कोहली, क्या ये थी वजह? विराट कोहली (AP)

वर्ल्ड कप में मिली नाकामी के बाद विराट कोहली अपना 'आराम' भूल गए और उन्हें वेस्टइंडीज जैसे कम महत्वपूर्ण दौरे के लिए भी तैयार होना पड़ा. बीच वर्ल्ड कप अचानक 23 जून को खबर आई थी कि इंडीज दौरे की टी-20 और वनडे सीरीज में विराट कोहली ने बीसीसीआई से आराम मांग लिया है. शायद तब अतिउत्साही विराट मान चुके थे कि टीम इंडिया ही वर्ल्ड कप जीतेगी और इसके बाद वह जैसा चाहेंगे वैसा ही होगा. यानी उन्होंने एडवांस में ही अपना कार्यक्रम तय कर लिया और वर्ल्ड कप के ठीक बाद इंडीज दौरे के लिए शुरुआती सीमित ओवरों की दो सीरीज से आराम के लिए अर्जी लगा दी.

... लेकिन विराट की उम्मीदों पर पानी फिर गया

सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड से हारकर टीम इंडिया का वर्ल्ड कप सफर खत्म होते ही विराट की उम्मीदों पर पानी फिर गया. कोच रवि शास्त्री और कप्तान विराट कोहली की जोड़ी सवालों के घेरे में आ गई. एक तरफ प्रशासकों की समिति (CoA) सवालों की लिस्ट लिये खड़ी थी, तो दूसरी तरफ प्रशंसकों की नाराजगी भी बढ़ती जा रही थी. ऐसे में हार से बेफिक्र विराट अगर वेस्टइंडीज दौरे की टी-20 और वनडे सीरीज में खेलने से मना कर देते, तो वह अपनी साख बचाने में कामयाब नहीं हो पाते. आखिरकार उन्होंने गहत चिंतन किया होगा और इस फैसले पर पहुंचे कि वेस्टइंडीज दौरे के लिए टीम इंडिया से जुड़ने में ही भलाई है.

विराट ने 19 जुलाई को ट्विटर पर वीडियो शेयर किया था. साथ ही उन्होंने लिखा- कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं है.

वेस्टइंडीज दौरे को कम आंकना ठीक नहीं

रविवार को मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने इंडीज दौरे के लिए टी-20, वनडे और टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय स्क्वॉड की घोषणा कर दी. बीसीसीआई ने तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया की कप्तानी का भार विराट कोहली के कंधे पर बरकरार रखा. यानी टीम इंडिया के लिए प्रतिबद्धता एक बार फिर विराट का पीछा कर रही है. कैरेबियाई दौरे के दौरान 8 मुकाबलों वाली तीन सीरीज में उन्हें न सिर्फ अपना बल्ला चलाना होगा, बल्कि बड़ी जीत के साथ दौरा समाप्त करना होगा.

कप्तानी के लिए तैयार खड़े थे रोहित शर्मा !

विराट कोहली यदि वेस्टइंडीज दौरे में टी-20 और वनडे टीम से नहीं जुड़ते, तो कप्तान के रूप में एक बार फिर रोहित शर्मा को मौका मिलता. वर्ल्ड कप में हार के बाद यह मांग भी उठने लगी थी कि रोहित शर्मा को वनडे और टी-20 का कप्तान बना दिया जाए. उल्लेखनीय है कि रोहित को विराट की गैरमौजूदगी में जब भी कमान मिली, उन्होंने टीम इंडिया को चैम्पियन बनवाया. ऐसे में विराट कोहली ने अपनी कप्तानी को ब्रेक देना उचित नहीं समझा और दौरे के लिए तैयार हो गए.

जब-जब मौका मिला- रोहित ने 'कर दिखाया'

पिछले साल सितंबर में विराट कोहली ने यूएई में खेले गए एशिया कप टूर्नामेंट में आराम ले लिया था. जिसके बाद रोहित शर्मा की कप्तानी में भारत ने यह टूर्नामेंट जीता. इससे पहले मार्च 2018 में श्रीलंका में खेली गई ट्राई टी-20 सीरीज में भी विराट आराम पर चले गए थे. रोहित ने इस टूर्नामेंट (निदहास ट्रॉफी) को भी जीतकर अपनी कप्तानी का लोहा मनवाया था. बतौर कप्तान रोहित ने अब तक 10 में से 8 वनडे जीते हैं, जबकि टी-20 इंटरनेशनल में 15 में से 12 मुकाबलों में उन्हें जीत मिली है. मजे की बात है कि टी-20 इंटरनेशनल में विराट कोहली ने भी 12 मैच जिताए हैं, लेकिन 22 मैच खेलकर.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay