एडवांस्ड सर्च

ओवल टेस्ट: पांचवें दिन भारत के सामने मैच बचाने की चुनौती

1936-2014 के दौरान भारत ने 12 टेस्ट खेले हैं, जिनमें से उसे सिर्फ 1 में जीत मिली, 4 गंवाए और 7 ड्रॉ रहे. भारत ने अपने टेस्ट इतिहास में अब तक सीरीज के पांचवें टेस्ट के रूप में कुल 34 टेस्ट खेले हैं, जिसमें से उसे 11 में हार मिली, जबकि 5 टेस्ट ही जीत पाए और 18 ड्रॉ रहे.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: तरुण वर्मा]लंदन (इंग्लैंड), 11 September 2018
ओवल टेस्ट: पांचवें दिन भारत के सामने मैच बचाने की चुनौती India vs England

टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का पांचवां और आखिरी मुकाबला लंदन के 'द ओवल' मैदान पर खेला जा रहा है. टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम ने अपनी पहली पारी में 332 रन बनाए. इसके बाद अपनी पहली पारी खेलने उतरी टीम इंडिया 292 रन पर ऑल आउट हो गई. इंग्लैंड को पहली पारी के आधार पर 40 रनों की बढ़त मिली.

LIVE स्कोरबोर्ड

दूसरी पारी में इंग्लैंड ने 8 विकेट पर 423 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और भारत को जीत के लिए 464 रनों का लक्ष्य दिया. जवाब में भारत ने 3 विकेट गंवा कर 58 रन बनाए हैं. भारत ने चोटी के तीन विकेट दो रन पर गंवा दिए हैं. टीम इंडिया ने दिन का खेल समाप्त होने तक तीन विकेट पर 58 रन बनाए हैं. वह लक्ष्य से 406 रन पीछे है.

केएल राहुल (46) और अंजिक्य रहाणे (10) खुल कर खेले और उन्होंने कुछ करारे शॉट लगाए. भारत के लिए हालांकि टूटती पिच पर पांचवें दिन बल्लेबाजी करना आसान नहीं होगा. फिलहाल ये दोनों बल्लेबाज क्रीज पर हैं.

दूसरी पारी में लड़खड़ाई टीम इंडिया

भारतीय टीम शुरू में ही लड़खड़ा गई और केवल 20 गेंद के खेल में उसने शिखर धवन (1), चेतेश्वर पुजारा (0) और कप्तान विराट कोहली (0) के विकेट गंवा दिए.

जेम्स एंडरसन (23 रन देकर दो) ने धवन और पुजारा को तीसरे ओवर में एलबीडब्ल्यू आउट किया. एंडरसन ने इसके साथ ही ग्लेन मैकग्रा के 563 विकेटों की बराबरी भी कर ली है.

  

स्टुअर्ट ब्रॉड (17 रन देकर एक) ने कोहली को विकेट के पीछे कैच कराया जो अपने करियर में तीसरी बार गोल्डन डक (पारी की पहली गेंद पर आउट) बने.

कुक और रूट के शतक से इंग्लैंड ने भारत को दिया 464 रनों का लक्ष्य

दूसरी पारी में इंग्लैंड ने 8 विकेट पर 423 रन बनाकर पारी घोषित कर दी और भारत को जीत के लिए 464 रनों का लक्ष्य दिया. इंग्लैंड की तरफ से सबसे ज्यादा रन अपना आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच खेल रहे एलिस्टेयर कुक ने बनाए. कुक ने अपने टेस्ट करियर का 33वां टेस्ट शतक जड़ते हुए 147 रनों की पारी खेली. उनके अलावा कप्तान जो रूट ने 125 रन बनाए जबकि बेन स्टोक्स ने 37 रन की पारी खेली.

भारत के लिए अपना डेब्यू मैच खेल रहे हनुमा विहारी और लंबे समय बाद टेस्ट में वापसी करने वाले रवींद्र जडेजा ने 3-3 विकेट लिए जबकि मोहम्मद शमी को 2 विकेट मिले.

कुक ने शतक जमाकर विदाई टेस्ट को यादगार बनाया

एलिस्टेयर कुक अपने पहले और अंतिम टेस्ट मैच में शतक जड़ने वाले केवल पांचवें बल्लेबाज बने. कुक 147 रन बनाकर आउट हुए जो उनका 33वां टेस्ट शतक है.

कुक से पहले ऑस्ट्रेलिया के रेगी डफ, बिल पोन्सफोर्ड और ग्रेग चैपल तथा भारत के मोहम्मद अजहरूद्दीन ही अपने पहले और आखिरी टेस्ट मैच में शतक जड़ने की विशिष्ट उपलब्धि हासिल कर पाए थे. कुक ने जब 76 रन बनाए तो उन्होंने कुमार संगकारा को पीछे छोड़ा.

अब वह सर्वाधिक टेस्ट रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं. ओवरआल उनसे अधिक रन अब सचिन तेंदुलकर, रिकी पोंटिंग, जैक कैलिस और राहुल द्रविड़ के नाम पर दर्ज हैं.  पारी के 70वें ओवर में कुक ने जसप्रीत बुमराह के ओवरथ्रो से अपना 33वां शतक पूरा किया.

कुक ने स्टीव वॉ (32 शतक) को पीछे छोड़ा. कुक के शतक का दर्शकों ने खड़े होकर जश्न मनाया और इस बल्लेबाज ने भी उनका अभिवादन स्वीकार किया. कुक ने 161 टेस्ट मैचों में 12472 रन बनाकर अपने टेस्ट करियर का अंत किया जिसकी शुरुआत उन्होंने 2006 में नागपुर में भारत के खिलाफ की थी.

दूसरी पारी में इंग्लैंड

दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड को पहला झटका केटन जेनिंग्स (10) के रूप में 27 के स्कोर पर लगा. उन्हें मोहम्मद शमी ने बोल्ड किया. इसके बाद कुक ने मोईन अली (20) के साथ दूसरे विकेट के लिए 35 रन जोड़े. अली टीम के 62 के स्कोर पर रवींद्र जडेजा की अंदर आती गेंद पर बोल्ड हो गए. उन्होंने 52 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए.

रूट को विहारी ने 125 के निजी स्कोर पर आउट कर दिया. विहारी ने अपनी आखिरी पारी खेल रहे सलामी बल्लेबाज कुक (147) को भी पवेलियन भेजा. इसके बाद, भारत के गेंदबाजों ने धारदार गेंदबाजी की और जॉनी बेयरस्टॉ (18) एवं जोस बटलर (0) को आउट किया. बेयरस्टॉ को शमी जबकि बटलर को जाडेजा ने पवेलियन की राह दिखाई.

इसके बाद, इंग्लैंड के बल्लेबाजों ने तेजी से रन बनाए. बेन स्टोक्स ने 37 और सैम कुरेन ने 21 रनों का योगदान दिया. आदिल राशिद 20 रन बनाकर नाबाद पवेलियन लौटे. भारत के लिए हनुमा विहारी और रवींद्र जडेजा ने 3-3 विकेट लिए जबकि मोहम्मद शमी को 2 विकेट मिले.

जडेजा की बदौलत 292 रन तक पहुंचा भारत

रवींद्र जडेजा की शानदार पारी की बदौलत टीम इंडिया ने अपनी पहली पारी में 292 रन बनाए. पहली पारी में बनाए गए 332 का स्कोर बनाने वाली इंग्लैंड के पास 40 रन की बढ़त है.

भारत की तरफ से रवींद्र जडेजा ने सर्वाधिक नाबाद 86 रन बनाए, जबकि अपना पहला टेस्ट मैच खेल रहे हनुमा विहारी ने 56 रन का योगदान दिया.

जडेजा ने 156 गेंदों की पारी में 11 चौके और एक छक्के की मदद से सर्वाधिक नाबाद 86 रन बनाए. जडेजा ने अपने टेस्ट करियर का नौंवा अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने जसप्रीत बुमराह (0) के साथ आखिरी विकेट के लिए 32 रन की साझेदारी की.

जडेजा के अलावा अपना डेब्यू टेस्ट खेल रहे हनुमा विहारी ने 124 गेंदों की पारी में सात चौकों और एक छक्के की मदद से 56, लोकेश राहुल ने 37, शिखर धवन ने तीन, चेतेश्वर पुजारा ने 37, कप्तान विराट कोहली ने 49, अजिंक्य रहाणे ने शून्य और ऋषभ पंत ने पांच रन बनाए.

इंग्लैंड के लिए जेम्स एंडरसन ने 54 रन पर दो विकेट, बेन स्टोक्स ने 56 रन पर दो विकेट, मोईन अली ने 50 रन पर दो विकेट, स्टुअर्ट ब्रॉड ने 50 रन पर एक विकेट, सैम कुरेन ने 49 रन पर एक विकेट और आदिल राशिद ने 19 रन पर एक विकेट हासिल किया.

ऐसी रही भारत की बल्लेबाजी

अपनी पहली पारी में बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत सही नहीं रही. मेहमान टीम को छह रन के स्कोर पर ही शिखर धवन (3) के रूप में पहला झटका लगा. धवन को स्टुअर्ट ब्रॉड ने एलबीडब्ल्यू आउट किया. भारत को दूसरा झटका लोकेश राहुल (37) के रूप में लगा. जब उन्हें सैम कुरेन ने बोल्ड कर दिया.

जेम्स एंडरसन ने चेतेश्वर पुजारा (37) को आउट कर भारत का तीसरा विकेट गिराया. पुजारा उनकी गेंद पर विकेट के पीछे जॉनी बेयरस्टॉ के हाथों लपके गए. उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे विकेट पर पैर जमाते उससे पहले ही जेम्स एंडरसन ने उन्हें कुक के हाथों कैच आउट करा कर पवेलियन लौटा दिया. रहाणे शून्य पर आउट हुए.

रहाणे के सस्ते में निपटने के बाद कप्तान कोहली (49) ने विहारी के साथ पांचवें विकेट के लिए 51 रन की साझेदारी की. कोहली अपने अर्धशतक बनाने से चूक गए. उन्होंने 70 गेंदों की पारी में छह चौके लगाए. उन्हें बेन स्टोक्स ने कप्तान जो रूट के हाथों लपकवाया. कोहली टीम के 154 के स्कोर पर आउट हुए. कोहली के आउट होने के कुछ देर बाद ही ऋषभ पंत (5) भी स्टोक्स का दूसरा शिकार बन बैठे.

भारत को 7वां झटका हनुमा विहारी (56) के रूप में लगा. उन्हें मोईन अली ने बेयरस्टॉ के हाथों कैच कराया. भारत को आठवां झटका 249 के स्कोर पर ईशांत शर्मा (4) के रूप में लगा. उन्हें मोईन अली ने बेयरस्टॉ के हाथों कैच कराया. इसके कुछ देर बाद ही मोहम्मद शमी (1) भी आदिल राशिद की गेंद पर आउट हो गए. स्टुअर्ट ब्रॉड ने बुमराह को रन आउट कर भारतीय पारी को 95 ओवर में 292 रन पर समेट दिया.

बटलर के 89 रन के दम पर 332 तक पहुंचा इंग्लैंड

जोस बटलर के शानदार 89 रनों की मदद से इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 332 रन का अपेक्षाकृत मजबूत स्कोर बना लिया. बटलर ने 133 की गेंदों की पारी में छह चौके और दो छक्के लगाए. बटलर का यह 10वां अर्धशतक है. बटलर के अलावा एलिस्टेयर कुक ने 71 रन बनाए जबकि मोईन अली ने 50 रन की पारी खेली.

एक समय इंग्लैंड ने 181 रन के स्कोर पर अपने 7 विकेट गंवा दिए थे, लेकिन आखिरी 3 विकेट के लिए 151 रनों की पार्टनरशिप हुई. ब्रॉड ने 38 रनों का योगदान दिया. ब्रॉड और बटलर के बीच नौंवे विकेट के लिए 98 रन की साझेदारी हुई.  भारत की ओर से रवींद्र जडेजा ने 79 रन पर चार विकेट, जसप्रीत बुमराह ने 83 रन पर तीन विकेट और ईशांत शर्मा ने 62 रन पर तीन विकेट चटकाए.

अच्छी शुरुआत के बाद बिखरी इंग्लैंड की टीम

60 के स्कोर पर इंग्लैंड को पहला झटका लगा. केटन जेनिंग्स अपनी पारी को बड़े स्कोर में नहीं बदल पाए और रवींद्र जडेजा की बॉल पर शॉर्ट लेग पर खड़े केएल राहुल को आसान सा कैच देकर पवेलियन लौट गए. कुक और जेनिंग्स ने पहले विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी की.

अपना आखिरी टेस्ट मैच खेल रहे कुक ने बेहद धीमी बल्लेबाजी की लेकिन वह पिछली नौ पारियों के बाद पहली बार 50 रन की संख्या पार करने में सफल रहे. कुक ने अपने सलामी जोड़ीदार कीटोन जेनिंग्स (23) के साथ पहले विकेट के लिए 60 रन जोड़े जबकि मोईन अली के साथ उन्होंने 73 रन की साझेदारी की. अपने टेस्ट करियर का आखिरी मैच खेल रहे कुक का यह 57वां अर्धशतक है.

कुक और मोइन को 31वें और 32वें ओवर में जीवनदान भी मिला. अली को कप्तान विराट कोहली ने जबकि मोइन को अजिंक्य रहाणे ने जीवनदान दिया. इसके बाद 64वें ओवर में बुमराह ने 133 रन के कुल स्कोर पर कुक को बोल्ड कर अपने आखिरी अंतरराष्ट्रीय मैच में शतक बनाने की उनकी उम्मीदों को तोड़ दिया. कुक ने अपने टेस्ट करियर का 57वां अर्धशतक पूरा किया. उन्होंने 190 गेंदों पर आठ चौके लगाए.

कुक के आउट होने के बाद इंग्लैंड ने एक रन के अंदर ही कप्तान जो रूट (0) और जॉनी बेयरस्टॉ (0) का भी विकेट गंवा दिया. रूट को बुमराह ने तो बेयरस्टॉ को ईशांत ने अपना शिकार बनाया. हालांकि अली ने इस दौरान बेन स्टोक्स (11) के साथ पांचवें विकेट के लिए 37 रन की साझेदारी की, लेकिन स्टोक्स भी टीम के 171 के स्कोर पर पांचवें बल्लेबाज के रूप में आउट हो गए. उन्हें जडेजा ने एलबीडब्ल्यू आउट किया.

स्टोक्स के आउट होने के बाद मोईन अली भी अपने टेस्ट करियर का 13वां अर्धशतक पूरा कर चलते बने. उन्होंने 170 गेंदों पर चार चौके लगाए. अली टीम के 177 के स्कोर पर छठे बल्लेबाज के रूप में आउट हुए. पिछले कुछ मैचों में शानदार पारियां खेलने वाले सैम कुरेन खाता भी नहीं खोल पाए. उन्हें ईशांत ने इंग्लैंड के 181 के स्कोर पर आउट किया.

इंग्लैंड को आठवां झटका आदिल राशिद (15) के रूप में 214 के स्कोर पर लगा. उन्होंने 51 गेंदों की पारी में तीन चौके लगाए. राशिद, बुमराह की गेंद पर एलबीडब्ल्यू आउट हुए.

इंग्लैंड को नौवां झटका स्टुअर्ट ब्रॉड के रूप में लगा. उन्होंने 59 गेंदों की पारी में 38 रन बनाए जिसमें तीन चौके शामिल थे. ब्रॉड का विकेट 312 के स्कोर पर गिरा. उन्हें जडेजा की गेंद पर लोकेश राहुल ने लपका. ब्रॉड के आउट होने के 20 रन बाद बटलर आउट हुए. उन्हें रवींद्र जडेजा ने अजिंक्य रहाणे के हाथों कैच कराया और इंग्लैंड की पारी को 332 रन पर रोक दिया.

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले ली बल्लेबाजी

इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया और भारत को गेंदबाजी सौंपी. टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में दो बदलाव हुए. ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या की जगह हनुमा विहारी और ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की जगह रवींद्र जडेजा को मौका मिला.

हनुमा विहारी इस मैच से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अपना डेब्यू कर रहे हैं. अब भारत के लिए टेस्ट मैच खेलने वाले 292वें खिलाड़ी बन गए. इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टेयर कुक के करियर का यह अंतिम मैच है. इसके बाद वह क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे. रूट ने इस मैच के लिए अपने अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया है.

ओवल में भारत का रिकॉर्ड

1936-2014 के दौरान भारत ने 12 टेस्ट खेले हैं, जिनमें से उसे सिर्फ 1 में जीत मिली, 4 गंवाए और 7 ड्रॉ रहे. भारत ने अपने टेस्ट इतिहास में अब तक सीरीज के पांचवें टेस्ट के रूप में कुल 34 टेस्ट खेले हैं, जिसमें से उसे 11 में हार मिली, जबकि 5 टेस्ट ही जीत पाए और 18 ड्रॉ रहे.

प्लेइंग इलेवन:

भारत: विराट कोहली (कप्तान), शिखर धवन, लोकेश राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत, रवींद्र जडेजा, हनुमा विहारी, ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह.

इंग्लैंड: जो रूट (कप्तान), एलिस्टेयर कुक, केटन जेनिंग्स, जॉनी बेयरस्टाॅ, जोस बटलर, मोईन अली, आदिल राशिद, सैम कुरेन, जेम्स एंडरसन, स्टुअर्ट ब्रॉड, बेन स्टोक्स.

Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay