एडवांस्ड सर्च

Ind Vs Aus: धोनी के नंबर पर कोहली से अलग रोहित की राय, बताई असली 'जगह'

India Vs Australia first one day match पहले मैच में मिली हार के बाद महेंद्र सिंह धोनी की फिफ्टी के बावजूद उनकी परफोर्मेंस को लेकर सवाल उठ रहे हैं. इस बीच विराट कोहली से अलग राय रखते हुए रोहित शर्मा ने कह दिया कि बैटिंग में धोनी के लिए सही जगह नंबर चार है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: जावेद अख़्तर]नई दिल्ली, 13 January 2019
Ind Vs Aus: धोनी के नंबर पर कोहली से अलग रोहित की राय, बताई असली 'जगह' MS Dhoni and Rohit Sharma (AP)

सिडनी में खेले गए वनडे सीरीज के पहले मैच में ऑस्ट्रेलया से मिली हार के बाद एक बार फिर विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी की बैटिंग पर चर्चा हो रही है. कुछ लोग धोनी की धीमी पारी को भी हार की वजह मान रहे हैं. इस बीच वनडे टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने धोनी को लेकर कप्तान विराट कोहली से अलग बयान दिया है.

कप्तान विराट कोहली की राय से उलट भारतीय वनडे टीम के उप कप्तान रोहित शर्मा ने शनिवार को कहा कि महेंद्र सिंह धोनी के लिए बल्लेबाजी क्रम में आदर्श स्थान नंबर चार है. भारतीय टीम विश्व कप से पहले बल्लेबाजी क्रम को तय करने में लगी है और रोहित ने कहा कि यह उनकी निजी राय है, आखिरी फैसला कप्तान और कोच का ही होगा.

धोनी ने शनिवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे में 96 गेंदों पर 51 रन बनाए और भारत को यह मैच 34 रन से गंवाना पड़ा. इससे धोनी की वर्तमान फार्म को लेकर फिर से बहस शुरू हो गई है. भारतीय पारी में शतक जड़ने वाले रोहित ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'निजी तौर पर मेरा मानना है कि धोनी का नंबर चार पर बल्लेबाजी करना टीम के लिए आदर्श स्थिति होगी लेकिन हमारे पास अंबाती रायुडु है जो वास्तव में नंबर चार पर अच्छा प्रदर्शन कर रहा है. यह पूरी तरह से इस पर निर्भर करता है कि कप्तान और कोच इस बारे में क्या सोचते हैं. मेरी व्यक्तिगत राय पूछो तो मुझे धोनी को नंबर चार पर उतारने में खुशी होगी.' हालांकि, इससे पहले विराट कोहली ने नंबर चार के लिए रायुडु को अपनी पसंद बताया था.

रोहित ने कहा, 'अगर आप धोनी की ओवरऑल बल्लेबाजी पर गौर करो तो उनका स्ट्राइक रेट 90 के करीब है. आज परिस्थिति भिन्न थी. जब वह बल्लेबाजी के लिए आए तब हमने तीन विकेट गंवा दिए थे और आस्ट्रेलिया बहुत अच्छी गेंदबाजी कर रहा था. आप शतकीय साझेदारी आसानी से नहीं निभा सकते. इसलिए हमने क्रीज पर कुछ समय बिताया और यहां तक कि मैं भी तेजी से रन नहीं बना पाया.'

उन्होंने कहा. 'मैंने भी कुछ समय लिया क्योंकि हम यह साझेदारी निभाना चाहते थे. अगर हम उस समय एक और विकेट गंवा देते तो मैच वहीं पर हमारे हाथ से निकल जाता. इसलिए हमने गेंदें खाली जाने दी और साझेदारी पर ध्यान दिया.'

मैच से पहले धोनी को ‘टीम का प्रकाशपुंज’ करार देने वाले रोहित ने इसके साथ ही कहा कि यह पूर्व कप्तान टीम के लिए किसी भी स्थान पर बल्लेबाजी करने के लिये तैयार है. उन्होंने कहा, ‘‘यह उनके लिये बेहद सरल है और वह चीजों को जटिल नहीं बनाते. हमने साझेदारी निभाने पर बात की क्योंकि तब यह जरूरी था.'

रोहित ने कहा, ‘‘हम जानते थे कि हम गेंदबाजों को दबाव में ला सकते हैं. दुर्भाग्य से हमने गलत समय पर विकेट गंवाये. पहले तीन विकेट और उसके बाद जब साझेदारी के कारण हम मजबूत स्थिति में लग रहे थे तब धोनी आउट हो गये और उसके बाद हमें लग गया था कि अब लक्ष्य तक पहुंचना मुश्किल होगा.'

तो क्या धोनी की धीमी पारी ने सिडनी में टीम इंडिया को हराया?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay