एडवांस्ड सर्च

100वें टेस्ट में हमें डिविलियर्स जीत दिलाएगा: हाशिम अमला

एबी डिविलियर्स अपना 100वां टेस्ट मैच खेलने वाले हैं लेकिन दक्षिण अफ्रीका के कप्तान हाशिम अमला ने साफ किया कि इससे उनकी टीम का ध्यान नहीं बंटेगा और यह स्टार बल्लेबाज चार मैचों की सीरीज बराबर करवाने में अपना अहम योगदान देगा.

Advertisement
aajtak.in
अभिजीत श्रीवास्तव नई दिल्ली, 13 November 2015
100वें टेस्ट में हमें डिविलियर्स जीत दिलाएगा: हाशिम अमला हाशिम अमला के साथ एबी डिविलियर्स

एबी डिविलियर्स अपना 100वां टेस्ट मैच खेलने वाले हैं लेकिन दक्षिण अफ्रीका के कप्तान हाशिम अमला ने साफ किया कि इससे उनकी टीम का ध्यान नहीं बंटेगा और यह स्टार बल्लेबाज चार मैचों की सीरीज बराबर करवाने में अपना अहम योगदान देगा. अमला ने दूसरे टेस्ट मैच की पूर्व संध्या पर कहा, ‘नहीं इससे (डिविलियर्स के 100वें टेस्ट मैच से) टीम का ध्यान नहीं बंटेगा. उम्मीद है कि वह शनिवार को मैदान पर अपना जलवा दिखाएगा और हमारे लिए मैच जीतेगा. यह उनके और हमारे लिए आदर्श मैच होगा. हमने पिछला मैच गंवाया है और हमारे लिए इस मैच पर ध्यान केंद्रित करना मुश्किल नहीं है.’

डिविलियर्स के बारे में अमला ने कहा कि अपने देश के लिए 100 टेस्ट मैच खेलना बहुत बड़ी उपलब्धि है. उन्होंने कहा, ‘एक टीम के रूप में हम इसका पूरा आनंद ले रहे हैं एबी अपना 100वां टेस्ट मैच खेल रहा है. दक्षिण अफ्रीकी होने के नाते हम जानते हैं कि यह बड़ी उपलब्धि है. हम सभी इस अवसर का जश्न मनाना चाहते हैं.’

अमला से पूछा गया कि क्या स्पिन लेती पिचों को लेकर चल रही चर्चा से टीम पर नकारात्मक प्रभाव पड़ा है, उन्होंने कहा कि गेंद के कम स्पिन होने के कारण असल में उन्हें परेशानी हुई.

अमला ने कहा, ‘मोहाली की पिच कैसी थी. उसमें गेंद ज्यादा टर्न नहीं हो रही थी और उससे हमें नुकसान हुआ.’ उन्होंने आगे कहा कि बंगलुरु की पिच लगता है कि मोहाली जैसी नहीं होगी क्योंकि बादल छाये हुए हैं और काफी नमी है. अमला ने कहा, ‘मुझे मैच से पहले पिच देखनी होगी, लेकिन ऐसी परिस्थितियों में यह मोहाली जैसी पिच नहीं लगती है.’

अमला से पूछा गया कि क्या वह बारिश की संभावना के कारण चिंतित हैं, उन्होंने कहा, ‘नहीं इसको लेकर चिंता नहीं है. ये चीजें हमारे नियंत्रण में नहीं हैं.’

बादल छाये रहने जैसी परिस्थितियां दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाजों के अनुकूल होंगी लेकिन अमला ने कहा कि भारत की अनुशासित गेंदबाजी के प्रभाव को कम करके नहीं आंका जा सकता है. उन्होंने कहा, ‘देखते हैं कि मौसम कैसा होता है. लेकिन यदि परिस्थितियां सीम गेंदबाजी के अनुकूल होंगी तो आप भारत के कुछ अनुशासित गेंदबाजों को नजरअंदाज नहीं कर सकते हो. जब गेंद मूव कर रही और स्विंग ले रही हो तो आपको सही जगह पर पिच कराना होता है और तब यह मायने नहीं रखता कि कौन गेंदबाजी कर रहा है. वह अच्छी गेंद होती है. उम्मीद है कि हमारे गेंदबाज अच्छी भूमिका निभाएंगे.’

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay