एडवांस्ड सर्च

डीडीसीए सकारात्मक, सरकार का समर्थन हासिल: बंसल

डीडीसीए ने शुक्रवार को कहा कि उसे यहां भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट की मेजबानी की उम्मीद है और उसे राज्य सरकार का समर्थन हासिल है. इससे पूर्व गुरुवार को बिशन सिंह बेदी की अगुआई वाले नाराज गुट ने मैच के आयोजन की डीडीसीए की क्षमता को लेकर संदेह जताया था.

Advertisement
aajtak.in
अभिजीत श्रीवास्तव नई दिल्ली, 13 November 2015
डीडीसीए सकारात्मक, सरकार का समर्थन हासिल: बंसल स्नेह प्रकाश बंसल

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) ने शुक्रवार को कहा कि उसे यहां भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच चौथे और अंतिम क्रिकेट टेस्ट की मेजबानी की उम्मीद है और उसे राज्य सरकार का समर्थन हासिल है. इससे पूर्व गुरुवार को बिशन सिंह बेदी की अगुआई वाले नाराज गुट ने मैच के आयोजन की डीडीसीए की क्षमता को लेकर संदेह जताया था.

डीडीसीए अध्यक्ष स्नेह प्रकाश बंसल ने कहा, ‘हम फिरोजशाह कोटला पर मैच के आयोजन को लेकर काफी सकारात्मक हैं. हमें सरकार का भी समर्थन हासिल है और हमें बीसीसीआई की 17 नवंबर की समयसीमा तक सभी स्वीकृति लेने का भरोसा है.’ इससे पहले बेदी दिल्ली के कई पूर्व क्रिकेटरों के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मिले थे और डीडीसीए में अत्यधिक भ्रष्टाचार के मुद्दे से निपटने और तीन दिसंबर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ होने वाले चौथे और अंतिम टेस्ट के आयोजन में संघ की अक्षमता पर उन्हें हस्तक्षेप करने को कहा था.

बंसल ने हालांकि कहा कि बेदी और उनके साथियों ने केजरीवाल के सामने गलत तस्वीर पेश की.

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने डीडीसीए में वित्तीय अनियमितताओं और अन्य गलत कामों की शिकायत की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति का गठन किया है जिसके 15 नवंबर तक रिपोर्ट सौंपने की उम्मीद है. बंसल ने कहा, ‘मैं बेदी का काफी सम्मान करता हूं. मैं उनके खिलाफ कुछ नहीं कहना चाहता. लेकिन मुझे लगता है कि उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री के सामने गलत तस्वीर पेश की. हमारे अधिकारी भी केजरीवाल द्वारा नियक्त जांच समिति के सदस्यों से मिले हैं और हम दोबारा ऐसा करेंगे. मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि सरकार हमारा समर्थन कर रही है.’

डीडीसीए दबाव में है क्योंकि बीसीसीआई ने पुणे को वैकल्पिक स्थल के रूप में रखा है जबकि राज्य सरकार ने राज्य संघ को मनोरंजन कर के रूप में 24 करोड़ 45 लाख रुपये का भुगतान करने को कहा है.

बंसल ने कहा, ‘देखिए ये सब कुछ पिछले पांच साल से हो रहा है. हम चीजों को सही करने के अपने लक्ष्य की दिशा में काम कर रहे हैं और हम सकारात्मक हैं कि समय चीजें सुलझा ली जाएंगी.’ माना जा रहा है कि 2012 से मनोरंजन कर का भुगतान नहीं किया गया है लेकिन सरकार कर माफी के डीडीसीए के आग्रह को स्वीकार कर सकती है.

इनपुटः भाषा

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay