एडवांस्ड सर्च

बर्थडे स्पेशल: इस 'जंबो' के नाम पर बेंगलुरु में है चौराहे का नाम

1970 में बेंगलुरू में कृष्णा स्वामी और सरोजा के घर जन्मे इस लेग स्पिनर के सम्मान में उनके शहर के एक चौराहे का नाम अनिल कुंबले सर्कल रखा गया...

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 17 October 2019
बर्थडे स्पेशल: इस 'जंबो' के नाम पर बेंगलुरु में है चौराहे का नाम अनिल कुंबले के नाम का बोर्ड

जंबो..जी हां! अनिल कुंबले, टेस्ट क्रिकेट में मुथैया मुरलीधरन (800) और शेन वॉर्न (708) के बाद तीसरे सबसे सफल गेंदबाज, जिनके नाम 619 विकेट हैं, आज (17 अक्टूबर) 49 साल के हो गए. 1970 में बेंगलुरु में कृष्णा स्वामी और सरोजा के घर जन्मे इस लेग स्पिनर के सम्मान में उनके शहर के एक चौराहे का नाम अनिल कुंबले सर्कल रखा गया.

आखिर कुंबले को जंबो क्यों कहा जाता है..?

कुंबले ने 2016 अपने फैंस के सवालों का जवाब देते हुए ट्विटर पर खुद इस राज से पर्दा उठाया था. तब कुंबले ने कहा था- 'मेरे उपनाम (जंबो) की मुहर और कोई नहीं नवजोत सिंह सिद्धू ने लगाई. उस वक्त मैं ईरानी ट्रॉफी में दिल्ली के कोटला में रेस्ट ऑफ इंडिया की तरफ से खेल रहा था और सिद्धू मिड ऑन पर फील्डिंग कर रहे थे, मेरी कुछ गेंद अचानक उछल रही थी, जिसके बाद सिद्धू ने कहा ‘जंबो जेट'. बाद में जेट तो हट गया, लेकिन जंबो रह गया. तब से मेरे सभी टीम-साथी मुझे जंबो कहने लगे.'

anil-kumble-2_101717083701_101719081107.jpg

क्रिकेट जगत में छाया विराट-कुंबले बहुचर्चित मतभेद

1990-2008 यानी 18 साल के टेस्ट करियर के दौरान कुंबले का विवादों से कोई नाता नहीं रहा. लेकिन भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य कोच के तौर पर कप्तान विराट कोहली के साथ बहुचर्चित मतभेदों के बीच उन्हें जून 2017 में इस्तीफा देना पड़ा. तब उन्होंने कहा था- 'मुझे बताया गया कि कप्तान को मेरी कार्यशैली को लेकर परेशानी है.' इस तरह उनके सफल कार्यकाल का कड़वा अंत हुआ. भारतीय टीम ने अनिल कुंबले के कोच रहते कई मुकाम हासिल किए. भारतीय टीम ने 17 टेस्ट खेले जिसमें से 12 मैच टीम ने जीते और सिर्फ 1 में टीम की हार हुई.

एंटिगा में रीयल हीरो बनकर छा गए थे

वेस्टइंडीज के खिलाफ 2002 के एंटिगा टेस्ट में अनिल कुंबले ने वो किया, जो उस वक्त शायद और कोई नहीं कर पाता. उस टेस्ट में कुंबले के जबड़े में चोट लग गई थी. लेकिन फिर भी वे पट्टी बांधकर गेंदबाजी करने उतरे. उन्होंने 14 ओवर डाले, जिसमें उन्होंने ब्रायन लारा को एलबीडब्ल्यू आउट कर विकेट भी लिया.

kumble-3_101719081149.jpg

FACTS

-इंग्लैंड के जिम लेकर के बाद टेस्ट क्रिकेट की एक पारी में सभी 10 विकेट लेने वाले एकमात्र गेंदबाज है. पाकिस्तान के खिलाफ 4 फरवरी 1999 को आरंभ हुए दिल्ली टेस्ट में 26.3 ओवरों में 9 मेडन रखते हुए 74 रन देकर 10 विकेट झटके थे.

-अगस्त 2007 में इंग्लैंड के खिलाफ अनिल कुंबले ने अपना पहला शतक (नाबाद 110 रन) जड़ा था. उन्हें शतक बनाने में 118 टेस्ट लग गए, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है.

-कुंबले ने तलाकशुदा चेतना से शादी की. उन्हें एक बेटा और दो बेटियां हैं, ये चेतना के पिछले विवाह से हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay