एडवांस्ड सर्च

विदाई टेस्ट में सेंचुरी जड़कर अनोखे क्लब में शामिल हुए कुक

एलिस्टेयर कुक ने 2006 में भारत के खिलाफ अपने टेस्ट करियर की शुरुआत की थी. उस मैच में उन्होंने शानदार शतक जमाया था. और अब उसी के खिलाफ आखिरी टेस्ट में भी शतकीय पारी खेली है.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: विश्व मोहन मिश्र]ओवल, 10 September 2018
विदाई टेस्ट में सेंचुरी जड़कर अनोखे क्लब में शामिल हुए कुक कुक का शतक

इंग्लैंड के दिग्गज सलामी बल्लेबाज एलिस्टेयर कुक अपने करियर की आखिरी पारी में शतक जमाने में कामयाब रहे. रविवार को 46 रन बनाकर नाबाद लौटे कुक ओवल टेस्ट के चौथे दिन सोमवार को अपने टेस्ट करियर का 33वां शतक पूरा किया.

भारत-इंग्लैंड के बीच टेस्ट सीरीज के आखिरी टेस्ट से पहले ही अपने संन्यास की घोषणा कर चुके 33 साल के कुक ने पांचवें टेस्ट की दूसरी पारी में शतक जमाया. यानी वह अपने डेब्यू और विदाई टेस्ट दोनों में शतक जमाने में कामयाब रहे. इसके साथ ही वह एक ऐसे अनोखे क्लब में शामिल हुए, जिसके वह पांचवें बल्लेबाज हैं.

संन्यास के बाद कमेंट्री बॉक्स में हाथ आजमाना चाहते हैं कुक

मजे की बात है कि कुक ने 2006 में नागपुर में भारत के खिलाफ टेस्ट डेब्यू में 60 और नाबाद 104 रनों की पारियां खेली थीं और अब उसी टीम के खिलाफ उन्होंने अपने अंतिम टेस्ट में 71 और 147 ( 286 गेंद, 14 चौके) रनों की पारियां खेलीं.

करियर के पहले और आखिरी टेस्ट दोनों में शतक बनाने वाले बल्लेबाज-

1. रेगी डफ (ऑस्ट्रेलिया 1902-1905): पहले टेस्ट में 32, 104 और आखिरी टेस्ट में 146 रन विरुद्ध इंग्लैंड

2. बिल पोंसफोर्ड (ऑस्ट्रेलिया 1924-1934): पहले टेस्ट में 110, 27 और आखिरी टेस्ट में 266, 22 रन विरुद्ध इंग्लैंड

3. ग्रेग चैपल (ऑस्ट्रेलिया 1970-1984) पहले टेस्ट में 108 विरुद्ध इंग्लैंड और आखिरी टेस्ट में 182 रन विरुद्ध पाकिस्तान

4. मो. अजहरुद्दीन (भारत 1984-2000) पहले टेस्ट में 110 विरुद्ध इंग्लैंड और आखिरी टेस्ट में 9, 102 रन विरुद्ध साउथ अफ्रीका

5. एलिस्टेयर कुक (इंग्लैंड 2006-2018) पहले टेस्ट में 60, 104* और आखिरी टेस्ट में 71, 147 रन विरुद्ध भारत

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay