एडवांस्ड सर्च

करगिल युद्ध के 10 वर्ष: शहीदों को नमन

जब तुम घर लौटो, तो उन्‍हें हमारी खबर देना और कहना कि उनके कल के लिए हमने अपना आज न्‍यौछावर कर दिया.

Advertisement
आज तक ब्‍यूरोनई दिल्‍ली, 24 July 2009
करगिल युद्ध के 10 वर्ष: शहीदों को नमन

जब तुम घर लौटो, तो उन्‍हें हमारी खबर देना और कहना कि उनके कल के लिए हमने अपना आज न्‍यौछावर कर दिया. मातृभूमि पर प्राण न्‍यौछावर करने वाले सैनिक की स्‍मृति में कोहिमा (नगालैंड) में तकरीबन 50 साल पहले बने स्‍मारक पर यह पंक्ति लिखी हुई है. लिखावट धुधली है. मगर देश के प्रति भक्ति भावना को दर्शाने के लिए यह अपूर्व अभिव्‍यक्ति है.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay