एडवांस्ड सर्च

तमिलनाडु में सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं कमल हासन, बताया कैसे होगा पूरा?

सिनेमा से राजनीति में आए कमल हासन ने कुछ ही दिन पहले राजनीतिक पार्टी का गठन किया था. अब वो तमिलनाडु में अगली सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं. क्या वो अगले इलेक्शन के बाद सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं? इस सवाल पर कमल हासन ने कहा, "हां." हॉलीवुड की ब्लॉकबस्टर फिल्म 300 का उदाहरण देते हुए कहा- हम यहां लौटने के लिए नहीं आए हैं. मैं मरते दम तक लोगों की सेवा करने से पीछे नहीं हटूंगा.

Advertisement
aajtak.in
अनुज शुक्ला मुंबई, 10 March 2018
तमिलनाडु में सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं कमल हासन, बताया कैसे होगा पूरा? कमल हासन

सिनेमा से राजनीति में आए कमल हासन ने कुछ ही दिन पहले राजनीतिक पार्टी का गठन किया था. अब वो तमिलनाडु में अगली सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं. क्या वो अगले इलेक्शन के बाद सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं? इस सवाल पर कमल हासन ने कहा, "हां." हॉलीवुड की ब्लॉकबस्टर फिल्म 300 का उदाहरण देते हुए कहा- हम यहां लौटने के लिए नहीं आए हैं. मैं मरते दम तक लोगों की सेवा करने से पीछे नहीं हटूंगा.

जब कमल हासन से पूछा गया कि इसके लिए आपको जमीनी कार्यकर्ताओं की जरूरत होगी, आपके पास काडर नहीं है? उन्होंने जवाब दिया- हमारे पास है. मेरे साथ 6 लाख हार्डकोर सदस्य काम कर रहे हैं. यह अचानक एक रात में नहीं हुआ. हम 37 साल से काम कर रहे हैं. हमारे पास लोग हैं. हालांकि वो ट्रेंड पॉलिटिशयन नहीं हैं. हाल ही में 'मक्कल निधि मय्यम' के रूप में राजनीतिक पार्टी बनाने वाले कमल ने यह भी माना कि अब तमिलनाडु की राजनीति में एमजीआर और जयललिता के बाद स्टार अपील लगभग ख़त्म है.

क्या है कमल की राजनीति का आधार

शुक्रवार को मुंबई में इंडिया टुडे कॉन्क्लेव में पद्मजा जोशी ने कमल हासन के साथ एक सत्र मॉडरेट किया. इस दौरान कमल ने बताया, महात्मा गांधी, पेरियार और आम्बेडकर उनके आदर्श हैं. गांधी और पेरियार-अम्बेडकर में मतभेद है, लेकिन मेरी राजनीति के आदर्श यही तीनों हैं.

कमल हासन ने मूर्ति तोड़ने को कहा अतिवाद, राष्ट्रीय राजनीति में आने के दिए संकेत

खुद की पार्टी को बताया तीसरा विकल्प

फिल्मी करियर पूरा होने के बाद राजनीति में आने के सवाल पर हासन ने कहा, 'मैंने फिल्मों में अपना वक्त पूरा कर लिया है. मैं एक नई जिंदगी की शुरुआत के लिए तैयार हूं. ये एक ऐसा जीवन है जिसे मैं कई वर्षों से नकारता आ रहा हूं.' उन्होंने बताया, पहले वो संसदीय राजनीति को अपने लिए सही नहीं मानते थे, लेकिन अब इसके बिना आप लोगों की सेवा नहीं कर सकते हैं. राजनीति में आने का मकसद लोगों की सेवा करना है.

उन्होंने कहा, वो राजनीति में किसी स्टार की तरह नहीं बल्कि एक कॉमन मैन की तरह आए हैं. कमल हासन ने खुद की पार्टी को तमिलनाडु में तीसरा विकल्प बताया. डीएमके और एआईडीएमके जैसी पार्टियों में न जाने के सवाल पर कमल ने कहा, मैं बहुत भूखा हूं और मेरे सामने सड़ा-गला फल है तो नहीं खाऊंगा. वो क्या थे (पार्टियां) ये अहमियत नहीं रखती पर अब वो क्या हैं, ये मेरे लिए काफी महत्वपूर्ण है.

विजयन-केजरीवाल अच्छे नेता

तमाम नेताओं से मुलाक़ात और भविष्य में किसी पार्टी से गठबंधन के सवाल पर कमल ने कहा, ये विचारधारा का मामला है. अभी मैंने कुछ निश्चित नहीं किया है. लेफ्ट नेता विजयन और केजरीवाल से मुलाकात और गठबंधन करने के सवाल पर कहा- विजयन ने केरल को नई ऊंचाइयों तक पहुंचाया. विजयन और केजरीवाल मुझे पसंद हैं. उन्होंने कहा, वो आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू से भी मिलेंगे. विचारधारा और प्लान दो अलग-अलग चीजें हैं. तमिलनाडु से बाहर राजनीति के विस्तार पर कहा, पहले देखते हैं हम क्या ( तमिलनाडु में) हासिल करते हैं.

पर्दे पर रोमांस किया, लेकिन बहन जैसी थीं श्रीदेवी- कमल हासन

राजनीति में छुआछूत नहीं मानता, पर विचार से समझौता नहीं

गठबंधन के सवाल पर कमल हासन ने यह भी कहा, मैं छुआछूत की राजनीति में भरोसा नहीं करता. पर भ्रष्ट राजनीति और आपराधिक प्रवृत्ति के साथ समझौता नहीं करूंगा. मेरे लिए चुनाव हारना बड़ी चीज नहीं है, लेकिन विचारधारा से समझौता बहुत बड़ा नुकसान है. समान विचारधारा के लोगों के साथ आने में दिक्कत नहीं है. बातचीत के दौरान जब पद्मजा जोशी ने कमल हासन से पूछा कि DMK और AIADMK के लोग आपको सुन रहे होंगे, आप क्या कहना चाहेंगे उनसे? हासन ने जवाब दिया- "सुधर जाएं."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay