एडवांस्ड सर्च

Advertisement

साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें

aajtak.in
02 November 2019
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
1/14
साहित्य का सबसे बड़ा महाकुंभ 'साहित्य आजतक 2019' चल रहा है. साहित्य, कला, संगीत, संस्कृति का यह जलसा दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र में तीन नवंबर तक चलेगा. साहित्य आजतक  के दूसरे दिन कवि और गीतकार प्रसून जोशी, कॉमेडियन वरुण ग्रोवर, बीजेपी नेता मनोज तिवारी से लेकर अभिनेता आशुतोष राणा समेत कला और साहित्य की तमाम हस्तियों ने शिरकत की और अपने विचार रखे. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
2/14
दूसरे दिन की शुरुआत भोजपुरी स्टार और दिल्ली प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी के सेशन से हुई. राम कनेक्शन लेकर मंच पर उतरे मनोज तिवारी ने बताया कि कैसे रामचरित मानस की चौपाइयों से बच्चों को संस्कार मिलते आ रहे हैं. इसके बाद जब 'जिया हो बिहार के लाला और रिंकिया के पापा गाया तो लोग कुर्सियों से खड़े होकर झूमने लगे. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
3/14
जाने माने स्टैंड अप कॉमेडियन वरुण ग्रोवर ने साहित्य आजतक के मंच से बेरोजगारी, वर्तमान राजनीति, युवाओं की सोच और बनारस के हाल पर व्यंग्य किए. इसके अलावा मुंबई में अनुराग कश्यप से मुलाकात और गैंग्स ऑफ वासेपुर के गीत लिखने के अनुभव साझा किए. बताया कि उन्होंने स्क्रिप्ट पढ़कर 'वुमनिया' सॉन्ग शादी के लिए लिखा था लेकिन वो फिल्म में दूसरी जगह फिट हुआ. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
4/14
साहित्य आजतक के मंच से जाने माने उपन्यासकार सुरेंद्र मोहन पाठक ने उपन्यास लिखने के शौक के बारे में चर्चा की. उन्होंने बताया कि उन्हें नॉवल लिखने का शौक बचपन से था.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
5/14
बॉलीवुड के मशहूर गीतकार व कवि समीर ने मंच पर अपने अनसुने गीत और कविताएं सुनाईं. उनका नाम सबसे ज्यादा हिट गीत लिखने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. इनमें से एक कविता 'धूप और छांव की लड़ाई है, जिंदगी अब समझ में आई है' सुनाई. उन्होंने नये गीतों के बारे में भी चर्चा की.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
6/14
टीवी की दुनिया के सितारे, कवि और कलाकार शैलेष लोढ़ा ने अपनी कविता सुनाकर सभी को भावुक कर दिया. खासकर उन्होंने जिस अंदाज से अपनी कविता 'बेटियां तो अहसास होती हैं' सुनाई, हर कोई भावुक हो गया. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
7/14
फिल्म अभिनेता आशुतोष राणा ने अपनी पहली किताब 'मौन मुस्कान की मार' के कई अंश पढ़कर सुनाए. उन्होंने बुंदेलखंडी भाषा में कही जाने वाली लोकोक्तियां जादुई वाक्यों के तौर पर सुनाई तो लोग हंस पड़े. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
8/14
मंच से गीतकार प्रसून जोशी ने कहा कि देशप्रेम है तो देश है. देशप्रेम नहीं होता तो देश आजाद नहीं होता. मैं आध्यात्मिक पुरुष हूं. मैं तो चाहता हूं कि पूरा विश्व एक होना चाहिए. जब हम आज व्यवस्था को मानते हैं तो उसे शक्तिशाली बनाना चाहिए. उन्होंने सरकार की निंदा पर भी अपना पक्ष रखा.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
9/14
साहित्य आजतक के साहित्य के यंगिस्तान सेशन में लेखिका विजयश्री तनवीर, लेखक दिव्य प्रकाश दुबे और लेखक सत्या व्यास ने हिस्सा लिया. यहां सत्या व्यास की हिन्द युग्म से प्रकाशित किताब 'बागी बलिया' का विमोचन किया गया.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
10/14
आप नेता व लेखक दिलीप पांडेय ने कहा कि मेरी पहली किताब दहलीज पे दिल है, जिसमें मैंने अन्ना मूवमेंट का जिक्र किया है. इस किताब को लिखने के दौरान मैंने 25-30 बच्चों से बातचीत की.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
11/14
गीतकार इरशाद कामिल के इंक बैंड ने अपना परफार्मेंस दिया. यहां इरशाद कामिल ने अपने खूबसूरत अंदाज में अपने शेर सुनाए तो उनका साथ दे रही गायिका ने उन्हें संगीतबद्ध लय में प्रस्तुत किया.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
12/14
शब्दों का शोर सेशन में चार जर्नलिस्ट व कवियों प्रताप सोमवंशी, कुंदन, निधीश त्यागी व कवि आलोक यादव ने हिस्सा लिया.
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
13/14
मशहूर अभिनेता सौरभ शुक्ला ने इस दौरान एक नाटक का भी मंचन किया. उनका थ्रिलर प्ले 'बर्फ' दर्शकों को चौंका गया. (Photo- C.Kumar)
साहित्य आजतक 2019: ऐसा रहा दूसरा दिन, देखें तस्वीरें
14/14
दिन के अंतिम सत्र में रूहानी सिस्टर्स ने मंच से कव्वाली सुनाकर समां बांध दिया.
Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay