एडवांस्ड सर्च

एक बंदर बना मुसीबत, 4 घंटे तक गुल कर दी पूरे देश की बिजली

एक बंदर के कारण समूचे केन्या के लोगों को बिजली संकट का सामना करना पड़ा, जब वह एक ट्रांसफॉर्मर पर गिर पड़ा. यह ट्रांसफॉर्मर देश के सबसे बड़े जलविद्युत संयंत्र का था.

Advertisement
aajtak.in
अमित कुमार दुबे/ IANS नैरोबी , 09 June 2016
एक बंदर बना मुसीबत, 4 घंटे तक गुल कर दी पूरे देश की बिजली ट्रांसफॉर्मर पर गिरे बंदर को बचा लिया गया

एक बंदर के कारण समूचे केन्या के लोगों को बिजली संकट का सामना करना पड़ा, जब वह एक ट्रांसफॉर्मर पर गिर पड़ा. यह ट्रांसफॉर्मर देश के सबसे बड़े जलविद्युत संयंत्र का था. केनजेन पॉवर कंपनी ने एक बयान जारी कर इसकी जानकारी दी.

बंदर के गिरने से ट्रांसफॉर्मर हुआ खराब
समाचार एजेंसी एफे के मुताबिक यह जंगली नर वानर गिटारू संयंत्र की छत पर चढ़ गया, जो राजधानी नैरोबी से 160 किलोमीटर दूर ताना नदी पर है और एक प्रमुख ट्रांसफॉर्मर पर गिर पड़ा. जिस वजह से ट्रांसफॉर्मर खराब हो गया और संयंत्र से होनेवाली 180 मेगावॉट की बिजली आपूर्ति रुक गई और पूरे देश में चार घंटों तक अंधेरा छा गया.

बिजली संयंत्रों को सुरक्षित करने की कोशिश
हालांकि बंदर को बचा लिया गया है और केन्या वन्यजीव सेवा उसकी देखभाल कर रही है. केनजेन ने एक बयान जारी कर कहा, 'केनजेन के बिजली संयंत्रों को इलेक्ट्रिक बाड़बंदी से सुरक्षित बनाया गया है, जो जंगली जानवरों के आक्रमण से बचाव करता है. हमें इस अलग घटना पर अफसोस है.' गिटारू केन्या का सबसे बड़ा जलविद्युत संयंत्र है, जो देश के बिजली उपभोग के कम से कम पांचवें हिस्से का उत्पादन करता है और इसकी अधिकतम क्षमता 225 मेगावॉट है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay