एडवांस्ड सर्च

Advertisement
राजीव गांधी के वो फ़ैसले जिन्होंने बदला भारतीयों का जीवन

राजीव गांधी के वो फ़ैसले जिन्होंने बदला भारतीयों का जीवन

21 मई 1991 को तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के पास श्रीपेरंबदूर में हुए आत्मघाती धमाके की गूंज जब थमी तो भारतीय राजनीति में एक लंबा सन्नाटा पसर गया. भारत के सबसे युवा प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 46 साल की उम्र में आतंकवादी हमले में मौत से दुनिया अवाक़ रह गई. आज के नामी गिरामी में राजीव गांधी और उनके लिए अहम फ़ैसलो को याद कर रही हैं पूनम कौशल

Advertisement

ये भी सुनिए

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay