एडवांस्ड सर्च

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने गाजा में युद्ध के खतरे को लेकर चेताया

संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव एतोनियो गुतारेस ने प्रदर्शन के दौरान इस्राइल की गोलीबारी में बड़ी संख्या में फिलस्तीनियों की मौत पर दुख जताते हुए चेतावनी दी की गाजा युद्ध की कगार पर खड़ा है.

Advertisement
aajtak.in
संदीप कुमार सिंह 19 June 2018
संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने गाजा में युद्ध के खतरे को लेकर चेताया एंतोनियो गुतारेस

इस्राइल-फिलस्तीन एक बार फिर चर्चा का विषय बने हुए हैं. मामला इस्राइल-फिलस्तीन के बीच चले आ रहे बरसों पुराने विवाद का है. विषय की गंभीरता पर संयुक्त राष्ट्र (यूएन) महासचिव एंतोनियो गुतारेस ने प्रदर्शन के दौरान इस्राइल की गोलीबारी में बड़ी संख्या में फिलस्तीनियों की मौत पर दुख जताते हुए चेतावनी दी कि गाजा युद्ध की कगार पर खड़ा है. एएफपी को मिली रिपोर्ट की प्रति के अनुसार, गुतारेस ने सुरक्षा परिषद से कहा कि इस्राइल-फलस्तीन संघर्ष में उन्हें ऐसे हालात तक पहुंचाने वाले सभी पक्षों के सभी कदमों की वो एक स्वर में निंदा करते हैं.

इस्राइल -फलस्तीन मुद्दे को लेकर मंगलवार को होने वाली बैठक से पहले यह रिपोर्ट पिछले सप्ताह परिषद को भेजी गयी. आपको बता दें कि गाजा में फिलहाल जारी हिंसा 2014 की इस्राइल-हमास युद्ध के बाद के सबसे खराब हालात हैं. गुतारेस ने कहा ,‘‘यह सभी के लिए चेतावनी होनी चाहिए, कि हम युद्ध की कगार पर खड़े हैं.’’

इस्राइली रक्षा बलों द्वारा हथियारों के प्रयोग से अबतक सैकड़ों लोगों का खून बह चुका है. गुतारेस ने कहा कि 30 मार्च को शुरू हुए प्रदर्शन के बाद से हताहत हुए फिलस्तिनियों की संख्या से वो काफी स्तब्ध हैं. जिसमें अब तक 132 फिलस्तीनी मारे जा चुके हैं और रेड क्रॉस के आंकड़ों के अनुसार 13,000 से ज्यादा लोग घायल हुए हैं.

आपको बता दें कि इस्राइल और फिलस्तीन के बीच विवाद की जड़ें 20वीं सदी से कायम हैं. कई मुद्दों को अपने भीतर समेटे हुए यह विवाद कभी भी सुलग उठता है. जिसका शिकार निर्दोष लोगों को होना पड़ता है. मार्च 2012 में फिलस्तीनी उग्रवादियों ने रॉकेट के जरिए हमले किए थे जिसमें जवाबी कार्रवाई में इस्राइल ने हवाई हमले किए थे. नवंबर में इस्राइल के हमले में हमास का दूसरा सबसे बड़ा नेता अहमद जबारी मारा गया था जिसके विरोध में हमास ने इस्राइल पर हजारों रॉकेट दागे थे. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay