एडवांस्ड सर्च

टैक्स हैवन देशों की मदद से माल्या ने ब्रिटेन में खरीदा महल, ब्रिटिश नागरिकता का दावा

भारत में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी मशहूर शराब कारोबारी विजय माल्या की गिरफ्तारी के लिए वारंट निकाला जा चुका है. वहीं ब्रिटेन में उनके बेशकीमती घर के मालिकाने का खुलासा हुआ है. 'किंग ऑफ गुडटाइम्स' के नाम से मशहूर विजय माल्या का नाम ब्रिटेन की मतदाता सूची में है. यहां उनका मकान है और स्थायी पते में इसका जिक्र भी है.

Advertisement
राहुल कंवल [Edited By: केशव कुमार]नई दिल्ली, 25 April 2016
टैक्स हैवन देशों की मदद से माल्या ने ब्रिटेन में खरीदा महल, ब्रिटिश नागरिकता का दावा माल्या का साल 1992 से ब्रिटेन की नागरिकता का दावा

भारत में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपी मशहूर शराब कारोबारी विजय माल्या की गिरफ्तारी के लिए वारंट निकाला जा चुका है. वहीं ब्रिटेन में उनके बेशकीमती घर के मालिकाने का खुलासा हुआ है. 'किंग ऑफ गुडटाइम्स' के नाम से मशहूर विजय माल्या का नाम ब्रिटेन की मतदाता सूची में है. यहां उनका मकान है और स्थायी पते में इसका जिक्र भी है.

बिना कर्ज चुकाए देश छोड़कर गए माल्या
भारत में लगभग एक बिलियन पौंड का कर्ज चुकाए बिना देश छोड़कर निकले 60 साल के माल्या पर प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की जांच चल रही है. माल्या और उनकी बंद पड़ी कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस पर 9,400 करोड़ रुपये का कर्ज नहीं लौटाने का आरोप है. हालांकि माल्या ने इन आरोपों का खंडन किया है.

खरीदारी के बारे में भारतीय अधिकारियों को बताया
फिलहाल वह ब्रिटेन के एक तीनमंजिले महल में रह रहे हैं, जिसे लेडीवॉक के नाम से जाना जाता है. यह महल लंदन से महज एक घंटे की दूरी पर स्थित हर्टफोर्डशायर के ट्विन गांव में है. बीते दिन माल्या ने इस बात की पुष्टि की है कि उनका आधिकारिक पता ब्रिटेन में लेडीवॉक है. उन्होंने यह भी कहा कि यह सूचना भारतीय अधिकारियों को भी दी गई है.

माल्या ने कहा कि कानूनी तौर पर खरीदा महल
माल्या ने कहा कि लेडीवॉक का मालिकाना हक पूरी तरह कानूनी है. ब्रिटेन में विदेशी संपर्क वाली कंपनियों का उपयोग संपत्ति खरीदने में किया जा रहा है और ऐसे मामले जांच के घेरे में आए हैं. इससे सही मालिक या लाभार्थी का नाम सामने नहीं आ पाता और कभी-कभी कर चोरी के मकसद से छिपा रहता है.

पड़ोसियों ने की माल्या की संपत्ति की तस्दीक
शुक्रवार को ब्रिटेन में माल्या के दो पड़ोसियों ने बताया कि तीस एकड़ में फैले महल में बीते गर्मी के मौसम से माल्या अनियमित तौर पर आते रहे हैं. यह महल उनकी विदेशी संपर्क वाली कंपनी ने 1.15 करोड़ पौंड में ब्रिटिश फार्मूला वन चैंपियन लेविस हैमिल्टन के पिता एंथोनी हैमिल्टन से खरीदी थी.

साझेदारी में खरीदा गया महल
जमीन रजिस्ट्री रिकॉर्ड के मुताबिक यह महल लिमिटेड लायबिलिटी पार्टनरशिप में दो साझेदारों की है. दस्तावेजों के मुताबिक एंथोनी हैमिल्टन ने इस महल और जमीन को साल 2008 में तीन मिलियन पौंड देकर खरीदा था. बीते साल इसे ठीकठाक कराकर उसने 11.5 मिलियन पौंड में बेचा. इस बीच उसने यहां स्विमिंग पुल और नए आउटहाउस भी बनवाए थे.

टैक्स हैवन देशों से खरीदारी का लिंक
माल्या के अलावा इस घर का मालिकाना हक कॉन्टिनेंटल एडमिनिस्ट्रेशन सर्विस नामक कंपनी की है. कैरिबियन इलाके में कॉमनवेल्थ कंट्री में यह कंपनी रजिस्टर्ड है. यह टैक्स हैवेन देशों में एक है. महल की खरीदारी के लिए बीते साल जुलाई महीने में स्विटजरलैंड के एडमॉन्ड रॉथचाइल्ड प्राइवेट बैंक से लोन लेकर खरीदा गया है. दस्तावेजों में लोम लेने वाली कंपनी का नाम लेडीवॉक इनवेस्टमेंट है. कंपनी एक अन्य टैक्स हैवेन देश ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में बनी हुई है.

साल 1992 से माल्या हैं ब्रिटिश नागरिक
माल्या ने खुलासा किया कि वह साल 1992 से ब्रिटेन के नागरिक हैं. उनकी खरीदारी में कोई टैक्स चोरी या गैरकानूनी गतिविधि शामिल नहीं है. ब्रिटेन में संपत्ति खरीदने में शामिल उनकी कंपनी की वहां जांच की जा रही है. अगवे महीने होने वाले एंटी करप्शन सम्मिट में डेविड कैमरन भविष्य की खरीदारियों में अधिक पारदर्शिता की मांग करेंगे.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay