एडवांस्ड सर्च

डॉन रवि पुजारी को दिल्ली लाया गया, पश्चिमी अफ्रीका के सेनेगल में हुआ था गिरफ्तार

अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी को दिल्ली लाया गया है. इससे पहले उसे भारत लाए जाने की सारी कागजी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी थीं. उसे सेनेगल में गिरफ्तार किया गया था.

Advertisement
aajtak.in
अरविंद ओझा / दिव्येश सिंह नई दिल्ली, 23 February 2020
डॉन रवि पुजारी को दिल्ली लाया गया, पश्चिमी अफ्रीका के सेनेगल में हुआ था गिरफ्तार अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी (फाइल फोटो)

  • रवि पुजारी अफ्रीकी देश सेनेगल में हुआ था गिरफ्तार
  • सेनेगल से दिल्ली लाया गया अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी
  • आखिरी बार सेनेगल से ही फरार हो गया था पुजारी

अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी को रविवार देर शाम दिल्ली लाया गया. कर्नाटक पुलिस के अधिकारी और खुफिया अधिकारी उसे लेने के लिए पश्चिमी अफ्रीका के सेनेगल गए थे. रवि पुजारी को भारतीय जांच एजेंसियों की मदद से पश्चिमी अफ्रीका के सेनेगल में ही गिरफ्तार किया गया था. आखिरी बार रवि पुजारी सेनेगल से ही फरार हुआ था.

रवि पुजारी कर्नाटक पुलिस की ही कस्टडी में रहेगा. बताया जा रहा है कि अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पूजारी सेनेगल में एंटोनी फर्नांडिस के नाम से पासपोर्ट बनाकर रह रहा था. यह पासपोर्ट 10 जुलाई 2013 को जारी किया गया था, जो 8 जुलाई 2023 तक वैध है.

पासपोर्ट के मुताबिक वह एक कॉमर्शियल एजेंट है. इसका मतलब यह है कि उसे एक व्यवसायी के रूप में मान्यता हासिल है, जो सेनेगल, बुर्किना फासो और इनके पास के देशों में 'नमस्ते इंडिया' नाम से रेस्टोरेंट की चेन चला रहा है. ravi-pujari_022320120927.jpg

जून 2019 में हो गया था फरार

पिछले साल जून महीने में अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी सेनेगल की अदालत से जमानत मिलने के बाद फरार हो गया था. उसे 21 जनवरी 2019 को सेनेगल में इंडियन एजेंसी के इनपुट पर गिरफ्तार किया गया था.

रवि पुजारी अफ्रीकी देश सेनेगल में रह रहा था. उस पर भारतीय एजेंसियां लगातार नजर रख रही थीं. अब उसको भारत लाने की तैयारी है.

और पढ़ें- बैंकों को लोन का 100% भुगतान करने को तैयार माल्या, कहा-लेकिन भारत नहीं जाऊंगा

रवि पुजारी पर कर्नाटक-महाराष्ट्र में 98 मामले

रवि पुजारी बॉलीवुड सितारों और यहां तक कि गुजरात से विधायक जिग्नेश मेवाणी तक को जबरन उगाही की धमकी दे चुका है. उसके खिलाफ कर्नाटक और मुंबई में 98 मामले लंबित हैं. बीते साल जून में गुजरात के विधायक और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि अंडरवर्ल्ड डॉन रवि पुजारी ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी.

जिग्नेश ने कहा था कि उनको फोन कॉल और मैसेज के जरिए धमकाया जा रहा है और धमकाने वाला खुद को रवि पुजारी बता रहा है. मेवाणी को फोन करने वाले शख्स ने दावा किया था कि उसका नाम रवि पुजारी है और वह ऑस्ट्रेलिया में है. उसने कहा था कि वह वहीं से मेवाणी को गोली मरवा सकता है.

अपराध की दुनिया में चर्चित नाम

रवि पुजारी का नाम अपराध की दुनिया में काफी चर्चित है. बड़े-बड़े लोगों से फिरौती वसूली इसका मुख्य पेशा है. फिरौती न चुकाने पर हत्या जैसे जघन्य अपराध भी रवि पुजारी और उसके गुर्गे करते रहे हैं. इस साल फरवरी में केरल के विधायक पी. सी. जॉर्ज ने खुलासा किया था कि रवि पुजारी ने उन्हें उनके बेटे की हत्या की धमकी दी थी.

जॉर्ज ने बताया, 'यह दो महीने पहले हुआ था जब मैं एक नन के साथ दुष्कर्म मामले में पिछले साल गिरफ्तार बिशप फ्रैंको मुल्लाकाल के साथ अपना समर्थन जता रहा था.'

और पढ़ें- जब सटोरिए संजीव चावला ने पूछा- आप ही हैं डीसीपी मिस्टर नायक?

समाचार एजेंसी आईएएनएस ने जॉर्ज के हवाले से कहा, 'मैं उस समय चुप इसलिए रहा, क्योंकि उसने मेरे दो बेटों में से एक को मारने की धमकी दी थी.' सात बार के विधायक जॉर्ज ने इस बारे में मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और राज्य पुलिस प्रमुख लोकनाथ बेहरा को तुरंत बताया था.

जॉर्ज ने बताया कि सबसे पहले कॉल करने वाले ने खुद को रवि पुजारी बताया, लेकिन उसी नंबर से दोबारा फोन करने वाला कॉलर मलयालम में बोल रहा था और उसने कहा कि वह माफिया डॉन के निर्देश पर फोन कर रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay