एडवांस्ड सर्च

श्रीलंका हमले के आरोपी पर बड़ा खुलासा, रह चुका है भारतीय एजेंसियों के रडार पर

श्रीलंका में ईस्टर पर हुए सिलसिलेवार धमाके का मुख्य आरोपी आदिल अमीज को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. आदिल भारतीय खुफिया एजेंसियों के रडार पर रह चुका है.

Advertisement
आशीष पांडेय [Edited by: देवांग दुबे]नई दिल्ली, 15 May 2019
श्रीलंका हमले के आरोपी पर बड़ा खुलासा, रह चुका है भारतीय एजेंसियों के रडार पर फाइल फोटो

श्रीलंका में ईस्टर पर हुए सिलसिलेवार धमाके का मुख्य आरोपी आदिल अमीज को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है. आदिल भारतीय खुफिया एजेंसियों के रडार पर रह चुका है. आतंकी संगठन ISIS संदिग्ध उबैद मिर्जा और कासिम के गिरफ्तार किए जाने के बाद ही आदिल अमीज रडार पर आया था. उबैद मिर्जा और कासिम की गिरफ्तारी अक्टूबर 2017 में हुई थी.

दोनों संदिग्ध व्हाट्सएप के जरिए आदिल के संपर्क में थे. उबैद और कासिम पर अहमदाबाद में लोन वोल्फ अटैक करने की साजिश रचने का आरोप है. उबैद मिर्जा वकील और कासिम मेडिकल क्षेत्र में था.

उबैद और कासिम दोनों को गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार किया था. दोनों सूरत में न्यायिक हिरासत में हैं. गुजरात एटीएस ने अंकलेश्वर, भरूच में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने दायर अपने प्रारंभिक चार्जशीट में आरोप लगाया कि उबैद मिर्जा और कासिम दोनों पीएम मोदी की हत्या करना चाहते थे. उन्हें कर्नाटक के शफी अरमार उर्फ ​​यूसुफ अल हिंदी ने ISIS में भर्ती कराया गया था.

ISIS ने ली हमले की जिम्मेदारी

श्रीलंका हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन ISIS ने ली है. आतंकी संगठन ने इस हमले में शामिल आतंकियों की तस्वीर भी जारी की थी. गौरतलब है कि श्रीलंका में ईस्टर के मौके पर 9 जगहों पर सिलसिलेवार बम धमाके हुए थे. इस हमले में करीब 250 लोगों मारे गए थे. इसमें 45 लोग विदेशी थे. धमाके में मरने वालों में 11 भारतीय भी थे.

नौ आत्मघाती हमलावरों ने तीन गिरजाघरों और तीन लग्जरी होटलों में विस्फोट किए थे. इस्लामिक स्टेट ने हमलों की जिम्मेदारी ली थी लेकिन सरकार ने विस्फोटों के लिए स्थानीय इस्लामी चरमपंथी समूह नेशनल तौहीद जमात को दोषी ठहराया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay