एडवांस्ड सर्च

कोरोना: ब्रिटेन में 1 जून से स्कूल खोलने की तैयारी, कई चरणों में खुलेंगे

प्लान के मुताबिक दसवीं और बारहवीं की पढ़ाई 15 जून से हो सकती है, जिनकी अगले साल परीक्षा है. जॉनसन ने माना कि छोटे बच्चों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के पालन में दिक्कतें हो सकती हैं. ऐसे में स्कूलों के लिए स्पेशल गाइडलाइंस तैयार की गई हैं

Advertisement
aajtak.in
लवीना टंडन लंदन, 25 May 2020
कोरोना: ब्रिटेन में 1 जून से स्कूल खोलने की तैयारी, कई चरणों में खुलेंगे प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने स्कूल खोलने का एलान किया है (फाइल फोटो-PTI)

  • बच्चों में कोरोना के लक्षण दिखे तो इसकी टेस्टिंग होगी
  • 10वीं-12वीं क्लास की पढ़ाई 15 जून से हो सकती है शुरू

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने देश में 1 जून से स्कूलों को चरणबद्ध ढंग से खोलने का एलान किया है. प्रधानमंत्री जॉनसन ने कहा, "मैं यह एलान करता हूं कि 1 जून, सोमवार से प्लान के मुताबिक हमारा आगे बढ़ने का इरादा है. अगर किसी भी बच्चे या स्टाफ में कोई लक्षण दिखते हैं तो उनकी टेस्टिंग की जाएगी."

प्लान के मुताबिक वर्ग 10 (दसवीं) और वर्ग 12 (बारहवीं) को 15 जून से खोलने का इरादा है जिनकी अगले साल परीक्षा की तैयारी है. जॉनसन ने माना कि छोटे बच्चों के साथ सोशल डिस्टेंसिंग के पालन में दिक्कते हो सकती हैं. इसके लिए स्कूलों के लिए स्पेशल गाइडलाइंस तैयार की गई हैं. इनकी क्लासेज का साइज घटाना, बच्चों को छोटे ग्रुप्स में रखना और एक दूसरे से मिक्स नहीं होने देना, अलग अलग ब्रेक और लंच टाइम, पिक अप और ड्रॉप का टाइम भी अलग अलग रखने पर ध्यान देना होगा. सफाई की फ्रीक्वेंसी बढ़ाना, साझा वस्तुओं के उपयोग को कम करना और आउटडोर स्पेस का इस्तेमाल करना, इसमें शामिल है.

ये भी पढ़ें: कोरोना: भारत की ब्राजील से क्यों हो रही तुलना, हालात एक जैसे लेकिन मौत का आंकड़ा अलग

प्रधानमंत्री के मुताबिक स्कूलों को खोलने के अलावा गैर-जरूरी रिटेल खोलने का भी प्लान था, जिसके बारे में आने वाले हफ्तों में सूचित किया जाएगा. जब तक मानव से मानव तक वायरस का R-ट्रांसफर दर 1 से नीचे रहता है, तब लॉकडाउन में ढिलाई को 1 जुलाई से तीसरे चरण में ले जाया जा सकता है. तब रेस्तरां, बार, सिनेमा और मनोरंजन केंद्र भी खोले जा सकते हैं. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक ब्रिटेन में सभी सेटिंग्स में कोरोनो वायरस के लिए पॉजिटिव टेस्ट देने वालों में रविवार तक 36,793 लोगों की मौत हुई.

ये भी पढ़ें: इनसाइड स्टोरीः क्या महिलाओं पर असर नहीं करता है कोरोना वायरस?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay