एडवांस्ड सर्च

पुतिन ने PM मोदी को भेंट की महात्मा गांधी की डायरी और तलवार

प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी बयान में कहा गया है, 'रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी को महात्मा गांधी की डायरी का एक पृष्ठ भेंट किया है. इस पृष्ठ में गांधीजी ने स्वयं कुछ लिखा है.'

Advertisement
aajtak.in
अकरम शकील मास्को, 24 December 2015
पुतिन ने PM मोदी को भेंट की महात्मा गांधी की डायरी और तलवार रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन ने PM मोदी को भेंट की तलवार

रुस के दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने मोदी को महात्मा गांधी की डायरी का एक पृष्ठ और 18वीं सदी की भारतीय तलवार भेंट स्वरूप दी है. गुरुवार को जारी आधिकारिक बयान के मुताबिक पुतिन ने ये वस्तुएं बुधवार शाम मोदी के लिए आयोजित भोज की मेजबानी के दौरान भेंट स्वरूप दीं.

प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी बयान में कहा गया है, 'रूस के राष्ट्रपति पुतिन ने प्रधानमंत्री मोदी को महात्मा गांधी की डायरी का एक पृष्ठ भेंट किया है. इस पृष्ठ में गांधीजी ने स्वयं कुछ लिखा है.'

 

पुतिन ने भेंट की मोदी को तलवार
पुतिन ने मोदी को बंगाल प्रांत की 18वीं सदी की भारतीय तलवार भी भेंट की. इस पर चांदी की कलाकृति है. इससे पहले मोदी बुधवार को दो दिवसीय रूस यात्रा पर मास्को पहुंचे, जहां उनका भव्य स्वागत किया गया इस दौरान वह 16वीं भारत-रूस वार्षिक सम्मेलन बैठक में हिस्सा लेंगे.

दोनों देशों के बीच होंगे कई अहम समझौते पर हस्ताक्षर
गौरतलब है कि गुरुवार को दोनों देशों के बीच वार्ता के बाद कई समझौतों पर हस्ताक्षर होने हैं, जिसमें व्यापार एक प्रमुख क्षेत्र है. मोदी और पुतिन क्रेमलिन में भारत और रूस के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईओ) के एक प्रतिनिधिमंडल से भी मुलाकात करेंगे. मोदी रूस में भारतीय समुदाय के सदस्यों से भी मुखातिब होंगे.

मोदी की यात्रा सूची में गुरुवार को मास्को में राष्ट्रीय संकट प्रबंधन केंद्र (एनसीएमसी) का दौरा भी शामिल है. एनसीएमसी एक बहुस्तरीय समन्वय केंद्र है, जिसे अंतरएजेंसी समन्वय और आपातकालीन स्थिति में लोगों को खतरे से अलर्ट करने के उद्देश्य से तैयार किया गया है.

दोनों देशों के बीच रणनीतिक संबंधों में विस्तार
रूस और भारत संयुक्त रूप से 200 कामोव-226टी हेलीकॉप्टर का निर्माण करेंगे. इसे रक्षा के क्षेत्र में पीएम मोदी के मेक इन इंडिया के तहत बड़ा कदम माना जा रहा है. भारत और रूस के बीच रणनीतिक संबंधों में विस्तार होने वाला है, विशेष रूप से परमाणु ऊर्जा, हाइड्रोकार्बन, रक्षा और व्यापार के क्षेत्र में.

इससे पहले रक्षा मंत्रालय के सूत्रों ने कहा था कि भारत रूस की ओर से उसे दूसरा परमाणु पनडुब्बी लीज पर दिए जाने की संभावनाएं तलाश रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay