एडवांस्ड सर्च

2019 में भी लोगों की पहली पसंद होंगे मोदी: US विशेषज्ञ

अमेरिका की जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के पॉलिटिकल साइंस एंड इंटरनेशनल अफेयर्स के असिस्टेंट प्रोफेसर एडम जीगफेल्ड का मानना है कि भारत में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में 2014 के आम चुनावों से ज्यादा अंतर नहीं है

Advertisement
aajtak.in
संदीप कुमार सिंह नई दिल्ली, 14 March 2017
2019 में भी लोगों की पहली पसंद होंगे मोदी: US विशेषज्ञ दुनियाभर में मोदी की तारीफ

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में प्रचंड जीत हासिल की, इस जीत के लिए मोदी को दुनिया भर से बधाई संदेश मिल रहे हैं. अब अमेरिका के एक्सपर्ट्स यह मान रहे हैं कि पीएम मोदी की यह जीत साफ दर्शाती है कि 2019 में होने वाले आम चुनावों में भी वह ही लोगों की पहली पसंद होंगे.

लोगों की पहली पसंद मोदी
अमेरिका की जॉर्ज वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के पॉलिटिकल साइंस एंड इंटरनेशनल अफेयर्स के असिस्टेंट प्रोफेसर एडम जीगफेल्ड का मानना है कि भारत में हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में 2014 के आम चुनावों से ज्यादा अंतर नहीं है, यह नतीजे भी तब की तरह ही अप्रत्याशित हैं. बीजेपी के उम्मीदवार अपने प्रतिद्वंदी से काफी अंतर से जीते हैं. वहीं अमेरिकन इंटरप्राइज इंस्टीट्यूट के सदानंद धुमे के अनुसार यह जीत दर्शाती है कि पीएम मोदी 2019 में भी लोगों की पहली पसंद होंगे, उनके दोबारा सत्ता में वापिस आने की संभावना ज्यादा है.

विपक्ष की एकजुटता जरुरी
हालांकि अन्य प्रोफेसर इरफान नूरुद्दीन ने कहा कि बीजेपी को 2019 में बहुमत तो नहीं मिलेगा लेकिन वह गठबंधन के साथ सत्ता में आएगी. उन्होंने कहा कि बीजेपी ने इन राज्यों में बहुत ही बारीकी से प्रचार किया है, 2019 में मोदी को हराने के लिए विपक्ष का एकजुट होना जरुरी है.

सदानंद धुमे के मुताबिक चुनावों से पहले लिया गया नोटबंदी का निर्णय लोगों को काफी पसंद आया. मुश्किलें झेलने के बावजूद भी लोगों ने पीएम मोदी का इस मुद्दे पर समर्थन किया. एक्सपर्ट्स मानते हैं कि इस जीत के बाद पीएम मोदी अपने फैसलों में तेजी ला सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay