एडवांस्ड सर्च

पत्रकार खशोगी की हत्या में बड़ा खुलासा, प्रिंस सलमान की भागीदारी के पुख्ता सबूत

संयुक्त राष्ट्र के एक विशेष दूत ने बुधवार को एक रिपोर्ट में कहा कि इस बात के विश्वसनीय प्रमाण हैं कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान और दूसरे सीनियर अधिकारी पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या के लिए व्यक्तिगत रूप से उत्तरदायी हैं. बीबीसी के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र की अतिरिक्त जांचकर्ता एग्नेस कैलमार्ड की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सबूत आगे की एक स्वतंत्र और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय जांच की मांग करता है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 20 June 2019
पत्रकार खशोगी की हत्या में बड़ा खुलासा, प्रिंस सलमान की भागीदारी के पुख्ता सबूत सऊदी अरब के प्रिंस सलमान (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या के मामले में सनसनीखेज खुलासा हुआ है. संयुक्त राष्ट्र के एक सीनियर अधिकारी ने कहा है कि इस मामले में सऊदी अरब के प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान की भूमिका की जांच होनी चाहिए. संयुक्त राष्ट्र की अधिकारी ने कहा है कि इस मामले में जांच एजेंसियों के पास प्रिंस सलमान के खिलाफ पुख्ता सबूत हैं.

संयुक्त राष्ट्र के एक विशेष दूत ने बुधवार को एक रिपोर्ट में कहा कि इस बात के विश्वसनीय प्रमाण हैं कि क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान और दूसरे सीनियर अधिकारी पत्रकार जमाल खाशोगी की हत्या के लिए व्यक्तिगत रूप से उत्तरदायी हैं. बीबीसी के अनुसार, संयुक्त राष्ट्र की अतिरिक्त जांचकर्ता एग्नेस कैलमार्ड की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि सबूत आगे की एक स्वतंत्र और निष्पक्ष अंतर्राष्ट्रीय जांच की मांग करता है.

वाशिंगटन पोस्ट के लिए काम करने वाले पत्रकार जमाल खाशोगी की 2 अक्टूबर 2018 में तुर्की की राजधानी इस्तांबुल में सऊदी के वाणिज्य दूतावास के अंदर रहस्यमय परिस्थितियों में हत्या कर दी गई थी.

इस हत्या ने अंतर्राष्ट्रीय समुदाय में गुस्सा पैदा हुआ. पहले तो सऊदी अरब इस केस में स्टेट एजेंसियों की किसी भी भूमिका से इनकार करता रहा और जांच की मांग भी खारिज कर दी, लेकिन दुनिया भर में पैदा हुए दबाव के बाद प्रिंस सलमान इस केस की जांच के लिए अपने दूतावास के अंदर विदेशी जांच एजेंसियों को आने की अनुमति दी.

संयुक्त राष्ट्र की अतिरिक्त जांचकर्ता एग्नेस कैलमार्ड ने अल जजीरा से बात करते हुए कहा, "मेरे पास जो सूचनाएं मुहैया कराई गई हैं, इसके आधार पर मेरे मन में कोई शंका नहीं रह गई है कि ये हत्या पहले तय की गई थी, इसे प्लान किया गया था."  

संयुक्त राष्ट्र की 100 पन्नों की रिपोर्ट में सऊदी दूतावास का ऑडियो रिकॉर्डिंग भी है, जब वह दूतावास में प्रवेश किए थे. रिपोर्ट के मुताबिक इस ऑडियो रिकॉर्डिंग में खाशोगी की हत्या के बाद लाश को ठिकाने लगाने के बारे में चर्चा की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay