एडवांस्ड सर्च

इटली में राजनीतिक संकट: गठबंधन सरकार गिरी, प्रधानमंत्री कोंटे ने दिया इस्तीफा

इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे ने मंगलवार को अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी है. इससे पहले उनकी सरकार के खिलाफ उप प्रधानमंत्री मत्तेओ साल्विनी की लीग पार्टी ने इटली के संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. साल्विनी की लीग पार्टी खुद इस गठबंधन सरकार में साझेदार थी लकिन दोनों गठबंधन दलों में बहुत से विषयों पर नीतिगत मतभेद थे.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 21 August 2019
इटली में राजनीतिक संकट: गठबंधन सरकार गिरी, प्रधानमंत्री कोंटे ने दिया इस्तीफा इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे (फोटोः आईएएनएस)

इटली के लिए बड़ा राजनीतिक संकट खड़ा हो गया है. दरअसल इटली के प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे ने मंगलवार को अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी है. इससे पहले उनकी सरकार के खिलाफ उप प्रधानमंत्री मत्तेओ साल्विनी की लीग पार्टी ने इटली के संसद में अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था. साल्विनी की लीग पार्टी खुद इस गठबंधन सरकार में साझेदार थी लेकिन दोनों गठबंधन दलों में बहुत से विषयों पर नीतिगत मतभेद थे.

इस्तीफे की घोषणा के पहले प्रधानमंत्री गियुसेप्पे कोंटे ने अपने डिप्टी और गठबंधन साझेदार साल्विनी की जमकर आलोचना की और उन्होंने साल्विनी पर निजी महत्वकांक्षा के लिए देश के हितों से खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हुए देश में राजनीतिक संकट पैदा करने पर तीखा हमला बोला.

वहीं नेशनलिस्ट लीग पार्टी के नेता साल्विनी ने यह कहते हुए प्रधानमंत्री कोंटे के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव पेश किया था कि वह अपने गठबंधन साझेदार फाइव स्टार के साथ अब काम नहीं कर सकते. आपको बता दें नेशनलिस्ट लीग पार्टी और लोकप्रिय फाइव स्टार मूवमेंट ने मात्र 14 महीने पहले ही कोंटे के साथ मिलकर शासन करने के लिए एक गठबंधन बनाया था.

कोंटे ने साल्विनी पर सरकार को गिराने का आरोप लगाते हुए उनके कदम को गैरजिम्मेदाराना बताया और कहा कि वह अपने सिर्फ निजी और पार्टी हित को महत्व दे रहे हैं. उन्होंने कहा, 'मैं घोषणा करता हूं कि मैं अपना इस्तीफा राष्ट्रपति को सौंपूंगा.'

कोंटे सीनेट में बहस के बाद अपना इस्तीफा राष्ट्रपति सर्जिओ मत्तेरेला को सौंपने वाले थे. ताजा घटनाक्रम के आधार पर अनुमान लगाया जा सकता है की मत्तेरेला मध्यावधि चुनाव की घोषणा कर सकते हैं. इससे पहले वह एक नई गठबंधन सरकार के गठन पर अलग-अलग पार्टी के नेताओं से चर्चा करने की घोषणा भी कर सकते हैं

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay