एडवांस्ड सर्च

हमास और इजराइल में रॉकेट युद्ध, 4 फलस्तीनियों की मौत से बढ़ा तनाव

फलस्तीनी सीमा क्षेत्र से शनिवार से अब तक करीब 430 रॉकेट दागे गए हैं और उसके हवाई रक्षा बलों ने कई को रास्ते में गिरा दिया. इजराइली सेना ने कहा कि उसके टैंकों और विमानों ने करीब 200 आतंकवादी ठिकानों को निशाना बनाया.

Advertisement
aajtak.in [Edited By: रविकांत सिंह]नई दिल्ली, 05 May 2019
हमास और इजराइल में रॉकेट युद्ध, 4 फलस्तीनियों की मौत से बढ़ा तनाव गाजा पट्टी में इजराइल का हमला (फोटो-इंडिया टुडे आर्काइव)

गाजा से रविवार तड़के इजराइल पर रॉकेट दागे गए. इसके जवाब में इजराइल ने हवाई हमले किए. इसी के साथ दोनों पक्षों के बीच तनाव बहुत अधिक बढ़ जाने का खतरा पैदा हो गया है. गाजा के अधिकारियों के मुताबिक शनिवार से बढ़े तनाव में इजराइली हमलों के चलते चार फलस्तीनियों की मौत हो गई. वहीं, इजराइल ने एक बच्चे और उसकी गर्भवती मां के मारे जाने के गाजा की रिपोर्ट को गलत बताया है. इजराइली पुलिस और अस्पताल ने कहा कि गाजा सीमा के पास एशकेलोन शहर में रॉकेट हमले में 58 साल के एक इजराइली व्यक्ति की मौत हो गई. यह ताजा झड़प गाजा पट्टी पर शासन करने वाले हमास के साथ हुई है जो संघर्षविराम के तहत इजराइल से कुछ और छूट की मांग कर रहा है.

इजराइल ने कहा कि फलस्तीनी सीमा क्षेत्र से शनिवार से अब तक करीब 430 रॉकेट दागे गए हैं और उसके हवाई रक्षा बलों ने कई को रास्ते में गिरा दिया. इजराइली सेना ने कहा कि उसके टैंकों और विमानों ने करीब 200 आतंकवादी ठिकानों को निशाना बनाया. सैन्य प्रवक्ता जोनाथन कोनरीकस ने कहा कि इन ठिकानों में एक सुरंग भी शामिल थी जहां से चरमपंथी हमलों को अंजाम देते थे. गाजा शहर की दो बहुमंजिली इमारतें तबाह हो गईं.

इजराइल ने दावा किया कि इन इमारतों में से एक में हमास का सैन्य खुफिया और सुरक्षा कार्यालय भी था और अन्य इमारत में हमास और इस्लामिक जिहाद के कार्यालय थे. वहीं तुर्की ने कहा है कि उसकी सरकारी संवाद समिति अनाडोलु का एक कार्यालय उस इमारत में स्थित था. साथ ही उसने इस हमले की निंदा की. गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि हमले में 14 माह के बच्चे और उसकी गर्भवती मां के साथ ही दो फलस्तीनी व्यक्तियों की मौत हो गई जबकि 40 लोग घायल हुए.

राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने ट्वीट किया, गाजा में अनाडोलु एजेंसी के कार्यालय पर हुए इजराइली हमले की हम कड़ी निंदा करते हैं. एर्दोआन फलस्तीनी मामले के कड़े समर्थक हैं. वहीं विदेश मंत्री मेवलट कावुसोगलु ने कहा कि आम नागरिकों के खिलाफ हुए ये हमले मानवता के खिलाफ अपराध हैं. गोलाबारी जारी रहने के बीच इजराइली प्रधानमंत्री बेंजमिन नेतन्याहु ने सुरक्षा प्रमुखों के साथ विचार-विमर्श किया.

हमास के सहयोगी इस्लामिक जिहादी ने एक बयान में कुछ रॉकेट दागे जाने की जिम्मेदारी ली और कहा कि वह और के लिए तैयार हैं. मिस्र और संयुक्त राष्ट्र के अधिकारी स्थिति को शांत करने को लेकर चर्चा कर रहे हैं जबकि यूरोपीय संघ ने गाजा से फौरन रॉकेट दागना बंद करने को कहा है. अमेरिका ने इजराइल पर गाजा चरमपंथियों के रॉकेट हमलों की निंदा की और कहा कि वह इन घृणित हमलों के खिलाफ आत्मरक्षा के उसके अधिकार का पूरा समर्थन करता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay