एडवांस्ड सर्च

अब सऊदी अरब के रास्ते इजराइल तक का उड़ान भरेगी एयर इंडिया

भारत को खाड़ी क्षेत्र में बड़ी कामयाबी उस समय हासिल हुई जब सऊदी अरब ने इजराइल जाने के लिए अपने एयरस्पेस एयर इंडिया की उड़ान के लिए खोल दिए.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 07 February 2018
अब सऊदी अरब के रास्ते इजराइल तक का उड़ान भरेगी एयर इंडिया सांकेतिक तस्वीर

एयर इंडिया अपने यात्रियों को अब सऊदी अरब के रास्ते इजराइल पहुंचा सकेगा क्योंकि उसे सऊदी अरब ने तेल अवीव तक की उड़ान के लिए अपने एयरस्पेस का इस्तेमाल करने की मंजूरी दे दी है.

इसे भारत सरकार की कूटनीतिक स्तर पर बड़ी कामयाबी माना जा रहा है. पहली बार सऊदी अरब ने अपने एयरस्पेस को किसी दूसरे देश के विमान को इजराइल तक के लिए उड़ान भरने की इजाजत दी है. इस फैसले के बाद एयर इंडिया अब नई दिल्ली से सीधे इजराइल के लिए उड़ान भर सकेगी. ऐसा पहली बार होगा जब भारतीय विमान सीधे इजराइल के लिए उड़ान भरेगी.

इजरायली अखबार हारेत्ज ने अपनी रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि की, हालांकि इस पर एयर इंडिया या फिर भारतीय उड्डयन मंत्रालय की ओर से किसी तरह की कोई पुष्टि नहीं की गई है. एयर इंडिया इस पर अभी सामने आकर बोलने से बच रहा है.

भारत की सरकारी एयरलाइन कंपनी के प्रवक्ता ने कहा कि हमने उड्डयन महानिदेशालय से सप्ताह में तीन बार दिल्ली से तेल अवीव के बीच उड़ान की अनुमति मांगी थी. हमने मार्च से इन उड़ानों की अनुमति मांगी थी, जिसका अभी इंतजार है।

एयर इंडिया के एक अधिकारी के अनुसार, अभी हमें तेल अवीव के बेन गुरियन और दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर उड़ान के लिए स्लॉट का भी इंतजार है.

ज्यादातर अरब और मुस्लिम देश इजरायल को एक राष्ट्र के तौर पर मान्यता नहीं देते हैं. यही कारण है कि इजरायल के लिए जाने वाली उड़ानों को ये देश अपने एयर स्पेस का इस्तेमाल करने की अनुमति देने से इनकार करते रहे हैं.

एयर इंडिया के अधिकारी ने बताया कि सऊदी अरब की ओर से हरी झंडी मिलने के बाद अब इजरायल के लिए उड़ान भरना काफी आसान हो जाएगा. सऊदी अरब के आसमान से गुजरने वाले विमान दिल्ली से अहमदाबाद, मस्कट, सऊदी अरब से होते हुए सीधे इजरायल पहुंच सकेंगे. इससे तेल अवीव का रूट करीब ढाई घंटे कम हो जाएगा और ईंधन की भी बचत होगी.

एयर इंडिया की योजना है कि नई दिल्ली और तेल अवीव के बीच सीधी उड़ान हफ्ते में 3 बार भरी जाए, अगर ऐसी अनुमति मिलती है तो वे 250 यात्रियों की क्षमता वाली ड्रीमलाइनर एयरक्रॉफ्ट्स को उड़ान के लिए लगाया जाएगा. एयर इंडिया अगले महीने से इसकी शुरुआत करने की योजना बना रहा है.

अभी तक इजराइली विमान सेवा ईआई अपने यहां के बेन गुरियन अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से मुंबई के लिए सीधे उड़ान भरती है. इस सफर में 7 घंटे लगते हैं क्योंकि सफर का ज्यादातर वक्त समुद्र के ऊपर गुजरता है.

इजरायली अखबार हारेत्ज ने भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए लिखता है कि यह फैसला क्षेत्र में भारत की बढ़ती महत्ता को दिखाता है.

एक दिन पहले ही इजरायल के पर्यटन मंत्रालय ने एयर इंडिया को नई दिल्ली से तेल अवीव की हवाई सेवा शुरू करने के लिए 7,50,000 यूरो की मदद देने का ऐलान किया. अगले महीने से इसकी शुरुआत होगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay