एडवांस्ड सर्च

फिलिस्तीन के खिलाफ युद्ध छेड़ने की तैयारी में अमेरिका

फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री ने अमेरिका पर फिलिस्तीन सरकार के खिलाफ आर्थिक और राजनीतिक युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि फिलिस्तीन मूल रूप से  इजरायल-फिलिस्तीन विवाद को खत्म करने की अमेरिकी पहल को खारिज करता है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in नई दिल्ली, 17 June 2019
फिलिस्तीन के खिलाफ युद्ध छेड़ने की तैयारी में अमेरिका डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

फिलिस्तीनी प्रधानमंत्री ने अमेरिका पर फिलिस्तीन सरकार के खिलाफ आर्थिक और राजनीतिक युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया है. अमेरिकी समाचार एजेंसी सिन्हुआ के हवाले से रविवार को मिली एक रिपोर्ट के मुताबिक, रामल्ला में जर्मनी के विदेशी मामलों के मंत्री नील्स एनन से मुलाकात के तुरंत बाद फिलिस्तीन के प्रधानमंत्री मोहम्मद इश्ताये ने बयान जारी कर कहा कि फिलिस्तीन मूल रूप से  इजरायल-फिलिस्तीन विवाद को खत्म करने की अमेरिकी पहल को खारिज करता है.

गौरतलब है कि इजरायल-फिलिस्तीन विवाद को सुलझाने के लिए अमेरिका 'डील ऑफ द सेंचुरी' नाम का शांति प्रस्ताव पेश करने की योजना बना रहा है. फिलिस्तीनी प्रशासन और गुटों ने घोषणा की है कि वे इसे अस्वीकार करते हैं. मोहम्मद इश्ताये ने कहा, "ट्रंप प्रशासन द्वारा अमेरिकी दूतावास को जेरूशलम स्थानांतरित करने और वॉशिंगटन में फिलिस्तीन लिबरेशन ऑर्गेनाइजेशन (पीएलओ) का कार्यालय बंद करने के बाद हमने 'डील ऑफ द सेंचुरी' को अस्वीकार कर दिया है."

प्रधानमंत्री इश्ताये ने आगे कहा कि अमेरिका और इजरायल मिलकर फिलिस्तीनियों तथा फिलिस्तीनी प्रशासन के खिलाफ आर्थिक युद्ध शुरू कर रहे हैं. उनके अनुसार अमेरिका ने मुख्य रूप से यूनाइटेड नेशंस एजेंसी फॉर फिलिस्तीनी रिफ्यूजीज (यूएनआरडब्ल्यूए) को दी जाने वाली वार्षिक राशि पर रोक लगा दी है. इस बीच इश्ताये ने एक घोषणा में कहा कि फिलिस्तीन अमेरिकी अगुआई में बहरीन में होने वाली आर्थिक कार्यशाला को भी खारिज करता है. इस कार्यशाला का शीर्षक 'पीस ऑफ प्रॉस्पेरिटी' है. फिलिस्तीनी प्रशासन ने वेस्ट बैंक में 25 और 26 जून को 'पीस ऑफ प्रॉस्पेरिटी' कार्यशाला के खिलाफ प्रदर्शन की घोषणा की है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay