एडवांस्ड सर्च

टोक्यो: भारत, अमेरिका और जापान के संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान चीनी जहाज ने की जासूसी

यह सैन्य अभ्यास ऐसे वक्त पर हो रहा है जब अमेरिका और जापान को इस बात की चिंता है कि चीन दक्षिण चीन सागर में जहाजों और पनडुब्बियों को आगे कर पश्चिम प्रशांत क्षेत्र में अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश में है.

Advertisement
aajtak.in
ब्रजेश मिश्र टोक्यो, 15 June 2016
टोक्यो: भारत, अमेरिका और जापान के संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान चीनी जहाज ने की जासूसी

भारत, अमेरिका और जापान के संयुक्त सैन्य अभ्यास के दौरान चीन का एक निरीक्षण करने वाला जहाज चोरी से जापान के जलक्षेत्र में घुसा. एक जापानी अधिकारी के मुताबिक, चीनी जहाज उस अमेरिकी विमान वाहक पोत, जॉन सी. स्टेनिस के पास आ गया जिसके पास सैन्य अभ्यास चल रहा था.

यह सैन्य अभ्यास ऐसे वक्त पर हो रहा है जब अमेरिका और जापान को इस बात की चिंता है कि चीन दक्षिण चीन सागर में जहाजों और पनडुब्बियों को आगे कर पश्चिम प्रशांत क्षेत्र में अपना प्रभाव बढ़ाने की कोशिश में है. चीन प्रशांत क्षेत्र को समुद्री रास्तों और सैन्य ताकत के लिहाज से महत्वपूर्ण मानते हुए इस इलाके में अपना प्रभाव बढ़ाना चाहता है.

18 लड़ाकू जेट ले जाने में सक्षम है स्टेनिस
इस सैन्य अभ्यास के दौरान 18 लड़ाकू जेट ले जाने में सक्षम 10000 टन के स्टेनिस को भी शामिल किया गया है. यहां पहले से ही 9 जहाज मौजूद हैं, जिनमें जापान और भारतीय नौ सेना के भी जहाज शामिल हैं. सैन्य अभ्यास के दौरान निगरानी के लिए जापान के हवाई जहाज भी तैनात किए गए हैं.

बता दें कि पिछले सप्ताह जापान ने चीन के राजदूत को तलब कर चीन के एक नौसैनिक जहाज के पूर्वी चीन सागर के जापान के दावे वाले जलक्षेत्र में घुस आने को लेकर चिंता जताई थी. चीन के इस कदम से इस विवादित क्षेत्र में तनाव और बढ़ गया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay