एडवांस्ड सर्च

आखिर क्यों मलाला के साथ तस्वीर शेयर करने पर घिरे कनाडाई शिक्षा मंत्री

मलाला यूसुफजई के साथ अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा करके कनाडा के क्यूबेक प्रांत के शिक्षा मंत्री बुरी तरह घिर गए हैं. इसको लेकर सोशल मीडिया पर उनकी तीखी आलोचना हो रही है.

Advertisement
aajtak.in
aajtak.in ओटावा, 07 July 2019
आखिर क्यों मलाला के साथ तस्वीर शेयर करने पर घिरे कनाडाई शिक्षा मंत्री कनाडा के क्यूबेक प्रांत के शिक्षा मंत्री जीन फ्रेंकोइस रॉबर्ज और मलाला यूसुफजई

कनाडा के क्यूबेक प्रांत के शिक्षा मंत्री जीन फ्रेंकोइस रॉबर्ज को मलाला यूसुफजई के साथ अपनी तस्वीर शेयर करने पर तीखी आलोचना झेलनी पड़ रही है. नोबेल पुरस्कार विजेता मानवाधिकार कार्यकर्ता मलाला यूसुफजई के साथ तस्वीर शेयर करने पर सोशल मीडिया पर लोग फ्रेंकोइस रॉबर्ज पर नाराजगी जता रहे हैं. सोशल मीडिया पर लोग इसे शर्मनाक और पाखंड बता रहे हैं.

दरअसल, जीन फ्रेंकोइस रॉबर्ज की गठबंधन अविनेर क्यूबेक (सीएक्यू) सरकार ने एक कानून पास किया है, जिसके तहत शिक्षक, पुलिस, न्यायधीश सहित सरकारी कर्मचारी कार्यस्थल पर किसी धर्म विशेष से संबंध रखने वाले कपड़े नहीं पहन सकते. फ्रेंकोइस रॉबर्ज और मलाला की मुलाकात फ्रांस में हुई थी, जहां उन्होंने शिक्षा और अंतरराष्ट्रीय विकास के मुद्दे पर चर्चा की थी.

फ्रेंकोइस रॉबर्ज द्वारा मलाला यूसुफजई के साथ वाली तस्वीर ट्विटर पर साझा करते ही लोगों की तीखी प्रतिक्रियाएं देखने को मिलीं. एक यूजर ने लिखा कि मलाला को कानूनी तौर पर हेडस्कार्फ पहनकर क्यूबेक के स्कूलों में पढ़ाने की इजाजत नहीं दी जाएगी.

एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 'क्या आपने उन्हें बताया कि क्यूबेक में मलाला जैसी महिलाएं सार्वजनिक सेवा में कुछ खास नौकरियों तक नहीं पहुंच पाती हैं. आपकी सरकार का धन्यवाद.' एक अन्य यूजर ने लिखा, 'आप पाखंडी हैं. आप उन्हें क्यूबेक में एक शिक्षिका नहीं बनने देंगे. आप मलाला के साथ पोज देकर अंक हासिल नहीं कर सकते.'

जब एक पत्रकार ने फ्रेंकोइस रॉबर्ज से सवाल किया कि अगर मलाला क्यूबेक में शिक्षक बनना चाहें, तो उनकी क्या प्रतिक्रिया होगी? इस पर वो अपनी सरकार की नीतियों का बचाव करने पर उतर गए. उन्होंने कहा, 'मैं मलाला को निश्चित तौर पर कहूंगा कि यह हमारे लिए एक सम्मान की बात होगी. जैसा कि क्यूबेक और फ्रांस के साथ अन्य खुले विचार वाले और सहिष्णु देशों में शिक्षक अपने कर्तव्यों का पालन करते हुए धार्मिक संकेत नहीं दे सकते.'

समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक सोशल मीडिया पर फोटो साझा होने के बाद क्यूबेक की विपक्षी पार्टियों ने भी फ्रेंकोइस रॉबर्ज की आलोचना की है. लिबरल एमएनए क्रिस्टीन सेंट पियरे ने कहा कि इस पर यकीन नहीं हो रहा है. उन्होंने पूछा कि क्या फ्रेंकोइस ने मलाला से 'बिल-21' के बारे में बात की है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay