एडवांस्ड सर्च

नाना-नानी के पास पहुंचा टॉयलेट में फंसा बच्‍चा

चीन में सीवेज पाइप से बचाए गए बच्‍चे को अब उसके नाना-नानी को सौंप दिया गया है. दरअसल, झेजियांग प्रोविंस के जिन्‍हुआ में नवजात बच्‍चा एक रिहायशी बिल्‍डिंग के टॉयलेट कमोड से लगे पाइप में फंसा गया था.

Advertisement
aajtak.in
आज तक वेब ब्‍यूरोबीजिंग, 31 May 2013
नाना-नानी के पास पहुंचा टॉयलेट में फंसा बच्‍चा baby resued in china

चीन में सीवेज पाइप से बचाए गए बच्‍चे को अब उसके नाना-नानी को सौंप दिया गया है. दरअसल, झेजियांग प्रोविंस के जिन्‍हुआ में नवजात बच्‍चा एक रिहायशी बिल्‍डिंग के टॉयलेट कमोड से लगे पाइप में फंसा गया था.

इस बात का खुलासा तब हुआ जब लोगों को बार-बार बच्‍चे के रोने की आवाज सुनाई दी. बाद में बच्‍चे को बड़ी मुश्किल से पाइप से बाहर निकाला गया. कहा जा रहा था कि बच्‍चे को उसकी मां ने ही फ्लश में बहा दिया था. हालांकि पुलिस का कहना है कि बच्‍चे की 22 वर्षीय मां के खिलाफ कोई आरोप नहीं लगाए गए हैं क्‍योंकि बच्‍चा दुर्घटनावश टॉयलेट में गिर गया था.

बच्‍चे की मां का दावा है कि वह एक शख्‍स के साथ हम‍-बिस्‍तर हुई थी. बाद में बच्‍चे के पिता ने उसे छोड़ दिया. उसका कहना है कि वह अबॉर्शन का खर्चा नहीं उठा सकती थी और अकेली मां होने का कलंक भी नहीं झेल सकती थी. इसलिए उसने शनिवार की दोपहर बच्‍चे को बाथरूम में जन्‍म दिया. जन्‍म देते ही बच्‍चा कमोड में फिसलकर गिर गया.

महिला के मुताबिक जब वह बच्‍चे को ऊपर नहीं खींच पाई तो उसने इस बारे में अपने मकान मालिक को जानकारी दी. हालांकि उसने मकान मालिक को यह नहीं बताया कि बच्‍चा उसका है, बल्कि उसने कहा कि एक बच्‍चा पाइप में फंस गया है और वह बार-बार रो रहा है.

पुलिस के मुताबिक, जब बच्‍चे को बचाया जा रहा था तब उसकी मां वहीं पर थी. और जब उससे पूछा गया तो उसने स्‍वीकार कर लिया कि वही बच्‍चे की मां है. पाइप से निकालने के बच्‍चे को कुछ दिन तक अस्‍पताल में रखा गया और अब उसे उसके नाना-नानी के हवाले कर दिया गया है.

उधर, बच्‍चे के तथाकथित पिता का कहना है कि अगर मेडिकल टेस्‍ट से साबित हो जाए कि बच्‍चा उसका है तो वह मदद करने के लिए तैयार है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay