एडवांस्ड सर्च

अफगानिस्तान में 'सेव द चिल्ड्रेन' कार्यालय पर हमला, 11 लोग घायल

जलालाबाद शहर में ब्रितानी परमार्थ संस्था के परिसर के बाहर एक कार में विस्फोट करने के बाद हमलावरों ने परिसर में धमाके के लिये रॉकेट चालित ग्रेनेड (आरपीजी) का इस्तेमाल किया था.

Advertisement
aajtak.in
केशवानंद धर दुबे जलालाबाद, अफगानिस्तान, 24 January 2018
अफगानिस्तान में  'सेव द चिल्ड्रेन' कार्यालय पर हमला, 11 लोग घायल Picture Credit (Afghanistan media)

अफगानिस्तान में काबुल के आलीशान होटल में गत शनिवार को हुए हमले के जख्म अभी भरे भी नही थे कि एक और हमले ने अफगान को हिला कर रख दिया. जलालाबाद शहर में स्थित 'सेव द चिल्ड्रेन्स' के कार्यालय पर बुधवार को बंदूकधारियों ने हमला किया. प्रत्यक्षदर्शियों एवं अधिकारियों ने बताया कि इस हमले में कम से कम 11 लोग घायल हो गए हैं.

बता दें कि जलालाबाद शहर में ब्रितानी परमार्थ संस्था के परिसर के बाहर एक कार में विस्फोट करने के बाद हमलावरों ने परिसर में धमाके के लिये रॉकेट चालित ग्रेनेड (आरपीजी) का इस्तेमाल किया था. गौरतलब है कि अभी तक इस हमले की जिम्मेदारी किसी भी आतंकी दल द्वारा नहीं ली गई है.

काबुल के लग्जरी होटल पर आतंकी हमला, 43 लोगों की मौत

इमारत के अंदर छुपे एक कर्मचारी ने व्हाट्सऐप पर भेजे संदेश में बताया, ‘‘मैंने दो हमलावरों की आवाज सुनी... वे हमें ढूंढ रहे थे. हमारे लिये दुआ करें... और सुरक्षा बलों को सूचित करें.’’ नानगरहर के गवर्नर के प्रवक्ता अत्ताउल्ला खोगयानी ने बताया कि हमला सुबह नौ बजकर 10 मिनट से शुरू हुआ था जिसके तुरंत बाद सुरक्षाकर्मी मौके पर पहुंचे थे.

खोगयानी ने यह भी बताया कि 11 लोगों का समूह परिसर में दाखिल हुआ था. अब तक 11 घायलों को अस्पतालों में पहुंचाया जा चुका है.

काबुल में फिदायीन अटैक, इंटरकॉन्टिनेंटल होटल को सुरक्षाकर्मियों ने घेरा, मारे गए 2 आतंकी

बता दें कि गत शनिवार को भी अफगानिस्तान की राजधानी के एक आलीशान होटल में आतंकियों ने धावा बोल दिया था. होटल में हमलावरों द्वारा कुछ लोगों को बंधक भी बना लिया गया था. इस हमले में करीब 22 लोगों के मरने की खबर थी, जिसमें से ज्यादातर मरने वाले विदेशी ही थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay