एडवांस्ड सर्च

राम मंदिर BJP का नहीं, राम भक्तों का मुद्दा: सिंघल

विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्‍ट्रीय संरक्षक अशोक सिंघल ने कहा है राम मंदिर भारतीय जनता पार्टी का नहीं बल्कि विहिप और राम भक्तों का मुद्दा है. विहिप एक बार फिर राम जन्मभूमि के मुद्दे पर देशव्यापी आन्दोलन खड़ा करने की योजना बना चुकी है. इसके लिए देशभर के संत आगामी 25 अगस्त से अयोध्या में पदयात्रा निकालेंगे.

Advertisement
aajtak.in
भाषा [Edited By: मलय ओझा]वाराणसी, 18 July 2013
राम मंदिर BJP का नहीं, राम भक्तों का मुद्दा: सिंघल अशोक सिंघल

विश्व हिन्दू परिषद के अंतरराष्‍ट्रीय संरक्षक अशोक सिंघल ने कहा है राम मंदिर भारतीय जनता पार्टी का नहीं बल्कि विहिप और राम भक्तों का मुद्दा है. विहिप एक बार फिर राम जन्मभूमि के मुद्दे पर देशव्यापी आन्दोलन खड़ा करने की योजना बना चुकी है. इसके लिए देशभर के संत आगामी 25 अगस्त से अयोध्या में पदयात्रा निकालेंगे.

सिंघल ने कहा कि मंदिर का निर्माण भाजपा नहीं, संत और रामभक्त करेंगे. उनका कहना था कि सुप्रीम कोर्ट से लेकर हर क्षेत्र पर यह साबित हुआ है कि राम जन्मभूमि पर ही रामलला का जन्म हुआ था. उसके बावजूद हिन्दू धर्म और संस्कृति के दुश्मन मंदिर नहीं बनने देना चाहते.

उन्होंने संसद के मानसून सत्र में राममंदिर मुद्दा उठाये जाने की मांग की. साथ ही यह भी कहा कि यदि इस बाबत कोई फैसला नहीं लिया गया तो 18 अक्टूबर को सरजू तट पर एक महासंकल्प समारोह के जरिये जनमत संग्रह तैयार किया जाएगा.

सिंघल ने बताया कि 40 प्रांतों के संत 25 अगस्त से 13 सितम्बर तक अयोध्या में 80 कोसी पदयात्रा निकालेंगे. अयोध्या की परिधि में पड़ने वाले छह जिलों में 350 किलोमीटर की पदयात्रा का कार्यक्रम तय किया गया. उन्होंने कहा कि इस देश में गंगा की अविरलता, गोरक्षा तथा धर्म की बात करने वाले को कट्टरवादी कहा जाता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay