एडवांस्ड सर्च

CBSE: बदल गई कॉपी री-चेक की नीति, सिर्फ 10 सवालों की होगी दोबारा जांच

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 12वीं कक्षा की कॉपियों की दोबारा जांच की नीति में बदलाव किया है जिसके तहत अब अधिकतम एक विषय में थ्योरी में 10 सवालों का ही पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा.

Advertisement
Sahitya Aajtak 2018
भाषा [Edited By: कुलदीप मिश्र]नई दिल्ली, 22 June 2014
CBSE: बदल गई कॉपी री-चेक की नीति, सिर्फ 10 सवालों की होगी दोबारा जांच CBSE new Evaluation Policy

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 12वीं कक्षा की कॉपियों की दोबारा जांच की नीति में बदलाव किया है जिसके तहत अब अधिकतम एक विषय में थ्योरी में 10 सवालों का ही पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा.

बोर्ड के एक अधिकारी ने पीटीआई से कहा, 'इस प्रक्रिया में अब छात्रों को पहले कॉपी की फोटोकॉपी के लिए आवेदन करना होगा और इसके बाद पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन कर सकेंगे.'

28 जून से कर सकेंगे आवेदन
अंकों की पुष्टि और जांची गई कॉपी की फोटोकॉपी प्राप्त करने के लिए सूचना के अधिकार के तहत कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा. छात्र अंकों की पुष्टि की प्रक्रिया का पालन करते हुए ऑनलाइन माध्यम से 28 जून से 4 जुलाई 2014 तक आवेदन कर सकते हैं.

छात्र पुनर्मूल्यांकन अंग्रेजी कोर, अंग्रेजी इलेक्टिव, फंक्शनल इंग्लिश, हिन्दी कोर, हिन्दी इलेक्टिव, गणित, भौतिकी, रसायन, जीव विज्ञान, बिजनेस स्टडीज, इकोनामिक्स एंड एकाउंटेंसी विषयों में करा सकेंगे.

हर सवाल का देना होगा 100 रुपये का शुल्क
अधिकारी ने कहा, 'इन विषयों में थ्योरी खंड में अधिकतम 10 सवालों का ही पुनर्मूल्यांकन किया जाएगा और प्रति सवाल 100 रुपये का शुल्क देना होगा. आवेदन केवल ऑनलाइन माध्यम से ही स्वीकार किया जायेगा.'

बोर्ड ने कहा है कि किसी भी अतिरिक्त सवाल के लिए दूसरा आग्रह स्वीकार नहीं किया जायेगा. अगर पुनर्मूल्यांकन में 5 से अधिक अंक का अंतर आएगा तो पहले मूल्यांकन के अंक को रद्द माना जायेगा और नया अंक वैध होगा. इस संबंध में नया पत्र जारी किया जायेगा. हालांकि अगर पुनर्मूल्यांकन में एक अंक भी कम होता है तब वह प्रभावी होगा.

पुनर्मूल्यांकन के खिलाफ कोई भी अपील स्वीकार नहीं की जायेगी. छात्रों को यह हलफनामा देना होगा कि पुनर्मूल्यांकन के नतीजे को वे किसी अदालत में चुनौती नहीं देंगे. बोर्ड ने यह भी कहा है कि पुनर्मूल्यांकन के लिए आरटीआई के तहत कोई भी आवेदन स्वीकार नहीं किया जाएगा.

Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay