एडवांस्ड सर्च

संप्रग की कृषि नीतियों की समीक्षा जरूरी: भाजपा

देश के किसानों के हितों की रक्षा करने वाली नीतियां बनाये जाने की वकालत करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि केंद्र की संप्रग सरकार की कृषि नीतियों की समीक्षा जरूरी है क्योंकि वायदा कारोबार के कारण किसानों को उनकी फसल की सही कीमत नहीं मिल रही है और बिचौलिये फायदा उठा रहे हैं.

Advertisement
aajtak.in
भाषाजालंधर, 18 December 2011
संप्रग की कृषि नीतियों की समीक्षा जरूरी: भाजपा

देश के किसानों के हितों की रक्षा करने वाली नीतियां बनाये जाने की वकालत करते हुए भारतीय जनता पार्टी ने कहा है कि केंद्र की संप्रग सरकार की कृषि नीतियों की समीक्षा जरूरी है क्योंकि वायदा कारोबार के कारण किसानों को उनकी फसल की सही कीमत नहीं मिल रही है और बिचौलिये फायदा उठा रहे हैं.

जालंधर में 23 दिसंबर को होने वाली पार्टी के राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक तथा 24 दिसंबर की रैली की तैयारियों का जायजा लेने आये भगवा पार्टी के राष्ट्रीय सचिव तथा वरिष्ठ नेता कैप्टन अभिमन्यु ने कहा, ‘संप्रग सरकार की कृषि नीतियों की समीक्षा जरूरी है क्योंकि वायदा कारोबार के कारण किसानों को उनकी फसल का सही मूल्य नहीं मिल पा रहा है.’

उन्होंने कहा, ‘वायदा कारोबार के कारण किसानों की बजाए बिचौलियों को फायदा हो रहा है. बेहतर फसल उगाने तथा मेहनत करने के बावजूद किसान लाभ से वंचित रह जाते हैं. अब किसानों के हितों की सुरक्षा करने वाली नीतियां बननी चाहिए.’

भाजपा नेता ने कहा, ‘मैं चाहता हूं कि सरकार किसानों को सुरक्षा प्रदान करने वाली नीतियां बनाए. केद्र सरकार की गलत कृषि नीतियों के कारण किसानों को उनकी फसल की कीमत नहीं मिल पा रही है. मुझे इस बात से आश्चर्य है कि आलू की बेहतरीन पैदावार होने के बावजूद किसान असमंजस की स्थिति में हैं, क्योंकि वह अपनी लागत निकाल पाने में असफल रहे हैं.’

कैप्टन अभिमन्यू ने कहा कि सरकार को एक ऐसी कृषि नीति बनाने की जरूरत है जो छोटे किसानों के हितों की रक्षा करे. उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस हमेशा से किसानों के भविष्य के साथ खिलवाड करती रही है.

इससे पहले भाजपा नेता ने 24 दिसंबर को होने वाली ‘जनविश्वास रैली’ के प्रभारी मनोरंजन कालिया और अन्य नेताओं के साथ राष्ट्रीय पदाधिकारियों के बैठक स्थल तथा रैली स्थल का जायजा लिया. स्थानीय नेताओं द्वारा की गयी अबतक की तैयारियों पर कैप्टन अभिमन्यु ने संतोष जताया.

गौरतलब है कि जालंधर में होने वाली जनविश्वास रैली में भाजपा प्रमुख नितिन गडकरी, पूर्व गृह मंत्री लाल कृष्ण आडवाणी, लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज सहित अन्य बड़े नेताओं के आने की संभावना है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay