एडवांस्ड सर्च

एसडीएम ने माया के लिए किया जातिसूचक शब्‍द का प्रयोग

नेताओं की जुबान फिसलने की खबर आपने कई बार सुनी होगी लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में एक सरकारी अधिकारी की जुबान फिसल गई. जुबान क्या फिसली, हड़कंप मच गया. क्योंकि उनकी जुबान से निकले शब्द मुख्यमंत्री मायावती के लिए थे.

Advertisement
aajtak.in
विनय पाण्डेशाहजहांपुर, 28 March 2011
एसडीएम ने माया के लिए किया जातिसूचक शब्‍द का प्रयोग

नेताओं की जुबान फिसलने की खबर आपने कई बार सुनी होगी लेकिन यूपी के शाहजहांपुर में एक सरकारी अधिकारी की जुबान फिसल गई. जुबान क्या फिसली, हड़कंप मच गया. क्योंकि उनकी जुबान से निकले शब्द मुख्यमंत्री मायावती के लिए थे.

यूपी में लखीमपुर खीरी के एसडीएम अमृत लाल साहू एक कार्यक्रम में मुख्य अतिथि बनकर पहुंचे शाहजहांपुर तो अंदाज ही बदल गया. मंच पर बोलने आए तो जुबान पर काबू ही नहीं रहा और वो बोल दिया जिसकी ना कानून ही इजाजत देता है, और ना ही समाज. एसडीएम साहब ने जोश में आकर सूबे की सीएम मायावती को जातिसूचक शब्दों से संबोधित कर दिया.

मौका था शाहजहांपुर के गांधी भवन में शाहू समाज के होली मिलन समारोह का. लोगों को समझाते-समझाते एसडीएम साहब इतना जोश में आ गए कि सारी मर्यादा भूल गए. ये भी भूल गए कि जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल करने पर कानूनी कार्रवाई भी हो सकती है.

हालांकि एसडीएम साहब ने इस बयानबाजी के लिए लोगों से माफी तो मांग ली लेकिन उनकी असल मुश्किल तो तभी खत्म हो पाएगी, जब सूबे की मुखिया मायावती से भी उन्हें माफी मिल जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay