एडवांस्ड सर्च

महाराष्ट्र विधानसभा में उठी सचिन को भारतरत्न देने की मांग

विश्वकप जीतने पर भारतीय क्रिकेट टीम को बधाई देते हुए महाराष्ट्र विधानसभा में मंगलवार को सचिन तेंदुलकर को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित करने की सिफारिश केंद्र सरकार से की गयी.

Advertisement
aajtak.in
आजतक ब्‍यूरो/भाषामुंबई, 05 April 2011
महाराष्ट्र विधानसभा में उठी सचिन को भारतरत्न देने की मांग पृथ्वीराज चव्हाण

विश्वकप जीतने पर भारतीय क्रिकेट टीम को बधाई देते हुए महाराष्ट्र विधानसभा में मंगलवार को सचिन तेंदुलकर को देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ से सम्मानित करने की सिफारिश केंद्र सरकार से की गयी.

मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण ने टीम को धन्यवाद देने और तेंदुलकर के लिए भारत रत्न दिये जाने की सिफारिश के संबंध में प्रस्ताव रखा, जिसका सभी दलों ने समर्थन किया. प्रस्ताव को आम सहमति से पारित किया गया. इससे पहले चव्हाण ने सदन में कहा, ‘हम तेंदुलकर को खेल में उनके योगदान के लिए भारत रत्न देने की सिफारिश करते हैं.’

उन्होंने घोषणा की कि राज्य सरकार महाराष्ट्र के खिलाड़ियों सचिन तेंदुलकर और जहीर खान को एक करोड़ रुपये का नगद पुरस्कार और प्रशस्तिपत्र देकर सम्मानित करेगी. इसी तरह टीम के सपोर्ट स्टाफ में शामिल मयंक पारेख और रमेश माने को 50-50 लाख रुपये देकर सम्मानित किया जाएगा.

मुख्यमंत्री ने गत शनिवार को मुंबई में विश्वकप फाइनल के दौरान पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था और प्रबंधन के लिए पुलिस और यातायात अधिकारियों को भी बधाई दी. विपक्ष के नेता एकनाथ खड़से ने सचिन को ‘क्रिकेट के भगवान’ की संज्ञा देते हुए कहा, ‘उनके लिए यह उपलब्धि इतनी आसान नहीं रही और इसमें 21 साल की कड़ी मेहनत लगी है.

सचिन एक पूरी टीम के बराबर हैं भले ही उनकी लगातार यह आलोचना होती रहे कि वह अपने रिकार्ड के लिए खेलते हैं.’ शिवसेना नेता सुभाष देसाई ने मांग की कि सचिन को बांद्रा में उनके निर्माणाधीन बंगले में जिम्नेजियम बनाने के लिए अतिरिक्त एफएसआई (फ्लोर स्पेस इंडेक्स) दिया जाए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay