एडवांस्ड सर्च

'शिकारी' मानवों के कारण लुप्त हुए थे विशालकाय जीव

वैज्ञानिकों ने एक नए अनुसंधान में दावा किया है कि 40 हजार वर्ष पहले हिमयुग में मौजूद विशालकाय जीवों के लापता होने के लिए पर्यावरणिक कारण नहीं बल्कि मनुष्य जिम्मेदार थे.

Advertisement
aajtak.in
आजतक ब्यूरो/भाषालंदन, 23 March 2012
'शिकारी' मानवों के कारण लुप्त हुए थे विशालकाय जीव

वैज्ञानिकों ने एक नए अनुसंधान में दावा किया है कि 40 हजार वर्ष पहले हिमयुग में मौजूद विशालकाय जीवों के लापता होने के लिए पर्यावरणिक कारण नहीं बल्कि मनुष्य जिम्मेदार थे.

अनुसंधानकर्ता कई दशकों से हिमयुग में हुए मेगा एसटिंक्शन (बड़े पैमाने पर जीवों एवं प्रजातियों का लुप्त होना) के कारणों को जानने की कोशिश कर रहे थे.

अब ऑस्ट्रेलियाई वैज्ञानिकों का कहना है कि मानवों द्वारा शिकार करने के कारण ही विशालकाय जीव (मेगाफॉना) लुप्त हुए थे. महाद्वीपों पर राज करने वाले यह जीव 40 हजार वर्ष पहले लुप्त हो गए.

उन्होंने अपने शोध में इन जीवों के लुप्त होने के लिए मानव को जिम्मदार ठहराया है. इन विशालकाय जीवों में शाकाहारी जीव शामिल थे जैसे 300 किलोग्राम वजनी कंगारू, शुतुमरुर्ग से भी तीन गुना ज्यादा वजनी चिड़िया आदि.

‘द डेली टेलीग्राफ’ ने अनुसंधान का नेतृत्व करने वाले सिडनी के मैक्वायर यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जॉन एलरॉय के हवाले से लिखा है, ‘अब बहस समाप्त हो जानी चाहिए. यह शिकार के कारण हुआ, अब कहानी खत्म.’

वैज्ञानिकों ने इस निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए क्वींसलैंड से मिले 1,30,000 वर्ष पुराने जीवश्म के अवसादो का अध्ययन किया है. साथ ही उन्होंने इन जानवरों के जीवाश्मों के मल से मिले कवक का भी अध्ययन किया.

वैज्ञानिकों ने पाया कि दो बड़े पर्यावरणिक बदलावों के बावजूद मेगाफॉना धरती पर मौजूद रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउनलोड करें
Advertisement
Advertisement

संबंधित खबरें

Advertisement

रिलेटेड स्टोरी

No internet connection

Okay